रवांडा में पीएम मोदी: इन शानदार मामलों में दुनिया के दिग्गज मुल्कों को मात देता है यह अफ्रीकी देश

तीन अफ्रीकी देशों की यात्रा पर रवाना हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को रवांडा पहुंचे, जहां उनका स्वागत खुद रवांडा के राष्ट्रपति पाल कागमे ने किया।

By: Shweta Singh

Published: 24 Jul 2018, 03:21 PM IST

किगली। तीन अफ्रीकी देशों की यात्रा पर रवाना हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को रवांडा पहुंचे, जहां उनका स्वागत खुद रवांडा के राष्ट्रपति पाल कागमे ने किया। बता दें कि पीएम मोदी इस पूर्वी अफ्रीकी देश आने वाले पहले भारतीय प्रधानमंत्री है। पीएम का यह दौरा कई मायनों में खास है, जहां मोदी ने कई अहम ऐलान किए है।

रवांडा में भारतीय उच्चायोग स्थापित करने की घोषणा

पीएम ने रवांडा में भारतीय उच्चायोग स्थापित करने की घोषणा की है जिससे दोनों देशों के रिश्तों को नया मुकाम मिलेगा साथ ही इससे वहां के लोगों को काउंसलर, वीजा और पासपोर्ट की सुविधा भी उपलब्ध होगी। वहीं इस संबंध में विदेश मंत्रालय के सचिव (आर्थिक संबंध) टी एस तिरूमूर्ति की माने तो इस यात्रा के दौरान भारत और रंवाडा के बीच एक रक्षा सहयोग समझौता होने की भी उम्मीद है।

इन सभी बातों के अलावा ऐसे कई बिंदु हैं, जो इस यात्रा को खास बनाती है। रवांडा में ऐसी कई विशेषताएं हैं, जो भारत ही नहीं कई विकासशील देशों के लिए मिसाल कायम करती है।

- कई विकासशील देशों के मुकाबले गरीब माना जाने वाला देश रवांडा महिला सशक्तिकरण और लैंगिक समानता के किसी भी अन्य विकासशील देश से आगे है। जबकि हैरान कर देने वाली बात तो ये है कि ये देश वर्षों तक गृह युद्ध की आग में जलता रहा है।
- यही नहीं वहां सत्ता में भी महिलाओं की भागीदारी के मामले में भी कई पश्चिमी यूरोपीय देश और विकसित देशों से आगे है। बता दें कि रवांडा में हुए पिछले संसदीय चुनावों में 63 प्रतिशत महिलाओं ने जीत दर्ज की थी। संसद में पुरुषों से अधिक महिलाओं की संख्या का ये आकड़ा बोलीविया के बाद दुनियाभर में दूसरे स्थान पर है।
- वहां की ये उपलब्धि इसलिए भी मायने रखती है, क्योंकि यह देश 1990 के दशक में भयानक नस्लीय हिंसा झेलने के बाद उबरा है, जिसमें करीब आठ लाख से अधिक लोग मारे गए थे।
- हिंसा के बाद जब यहां साल 2003 में यहां नया संविधान लागू हुआ था, तो संसद में महिलाओं के 30 प्रतिशत आरक्षण दिया गया। जिसके बाद उसी साल हुए जो चुनाव हुए उसमें वहां 48.8 प्रतिशत महिलाएं जीत कर संसद पहुंची थीं।
- आज भी रवांडा अपनी अर्थव्यवस्था के पुनर्निर्माण और मजबूती देने में जुटा है। विश्व बैंक ने रवांडा सरकार की गरीबी और असमानता को खत्म करने की कोशिशों में कामयाबी के लिए प्रशंसा की है।

Prime Minister Narendra Modi
Shweta Singh Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned