क्लीनिक सील करने पर सीएमएचओ को बंधक बनाने का प्रयास

आगर-मालवा में केस दर्ज होने के बावजूद चिकित्सक कर रहा था उपचार। बीना में दुकान बंद कराने पर पथराव, आरक्षक घायल

By: Hitendra Sharma

Published: 07 May 2021, 10:12 AM IST

आगर मालवा. माली खेड़ी रोड पर स्थित एक निजी क्लीनिक संचालक के विरुद्ध 23 अप्रेल को सीएमएचओ के प्रतिवेदन पर कोतवाली थाने पर आपराधिक प्रकरण दर्ज किए जाने के बाद भी क्लीनिक संचालक मरीजों का उपचार कर रहा था।

अनाधिकृत रूप से चल रहे इस क्लीनिक को बंद कराने एवं कार्रवाई करने पहुंचे सीएमएचओ एसएस मालवीय तथा कस्बा पटवारी त्रिलोक पाटीदार सहित राजस्व अमले को क्लीनिक संचालक तथा उसके परिजनों द्वारा बंधक बनाने का प्रयास किया गया। उसके बाद मौके पर पहुंचे भारी पुलिस बल की मौजूदगी में क्लीनिक के अंदर से करीब 23 मरीजों को उपचार के लिए जिला अस्पताल पहुंचाया गया।

Must see: संक्रमण से बचाने प्रदेश में लागू होगा बुरहानपुर मॉडल

जानकारी के अनुसार माली खेड़ी रोड पर क्लीनिक संचालित करने वाले कथित डॉक्टर नासिर खान के क्लीनिक पर करीब 15 दिन पहले एसडीएम राजेंद्र सिंह रघुवंशी द्वारा निरीक्षण किया गया था, जिसमें अनाधिकृत रूप से मरीजों का उपचार करना पाया गया था। एसडीएम के जांच प्रतिवेदन के आधार पर सीएमएचओ द्वारा अपराधिक प्रकरण दर्ज कराने के लिए कोतवाली पुलिस को प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया। जिस पर 23 अप्रेल को संबंधित क्लीनिक संचालक नासिर हुसैन के विरुद्ध प्रकरण दर्ज करते हुए क्लीनिक संचालन पर रोक लगाई थी।

Must see: एक मैसेज पर 5 घंटे में टैंकर लेकर भोपाल पहुंच गई विशेष ट्रेन

दुकान बंद कराने पर पथराव, आरक्षक घायल
बीना के भानगढ़ थानांतर्गत ग्राम विल्धव में गुरुवार सुबह कोरोना कफ्र्यू का पालन कराते समय ग्रामीणों ने पुलिस पर पथराव कर दिया, जिससे आरक्षक घायल हुए हैं और पुलिस वाहन के कांच फूट गए। घटना के बाद पूरे अनुविभाग का पुलिसबल गांव में पहुंच गया था, जिससे पूरा गांव छावनी बना रहा।

Must see: पुलिस से विवाद और वीडियो वायरल करने वालों की खैर नहीं

जानकारी के अनुसार गुरुवार सुबह करीब 8 बजे चार आरक्षक पुलिस वाहन से विल्धव गांव गए हुए थे, जहां चाय, पान की गुमठियां खुली हुई थीं और करीब चालीस, पचास लोग बैठे थे। जिसपर आरक्षकों ने सभी को वहां से जाने और दुकानें बंद करने के लिए कहा, जिसपर गांव वाले भड़क उठे। इसके बाद महिला, पुरुषों ने एकत्रित होकर आरक्षकों पर पत्थर, लाठी, डंडों से हमला कर दिया, जिससे आरक्षक राकेश के सिर और अन्य को हाथ में चोट आई हैं। १४ के खिलाफ केस दर्ज किया है। आरोपियों की तलाश की जा रही है।

Must see: रेमडेसिविर इंजेक्शन लेकर पहुंचा विमान एयरपोर्ट पर क्रैश

Hitendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned