सीएम की सभा में भीड़ लेकर गए निगम के अधिकारी, दफ्तर में सन्नाटा, भटकते रहे फरियादी

शिकायत लेकर पहुंचे लोग वापस लौटे, सुनवाई वाला कोई नहीं

By: Manoj singh Chouhan

Published: 24 May 2018, 02:55 PM IST

रीवा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की सभा सम्मेलन रघुराजगढ़ गांव में आयोजित की गई। कहने को चाहे भले ही यह गांव हो लेकिन सभा में भीड़ का बड़ा हिस्सा रीवा शहर से गया था। नगर निगम ने अधिकारियों की ड्यूटी भीड़ जुटाने में लगा दी थी जिसकी वजह से पूरे दिन निगम कार्यालय में सन्नाटा छाया रहा। शहर के अन्य हिस्सों से शिकायतें और समस्याएं लेकर पहुंचे लोगों को उदास होकर लौटना पड़ा।

मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के लिए शुरू की गई संबल योजना के तहत चिह्नित हितग्राहियों को लाभ दिलाने के बहाने शहर के वार्डसे भीड़ जुटाईगई। इसके निगम ने जोन वार वाहन अधिग्रहित कर लोगों को रघुराजगढ़ तक पहुंचने की व्यवस्था कराई थी। गत दिवस कलेक्टर ने निगम के अधिकारियों से भीड़ जुटाने के लिए कहा था। पूरे दिन नगर निगम की व्यवस्थाएं बेपटरी रहीं। कार्यालय आने वाले लोग निराश होकर लौटते रहे। साथ ही मोहल्लों में पानी, बिजली, सफाई, मवेशियों के मरने आदि की समस्याओं की सुनवाईकरने वाला कोईनहीं था।

दस बसों से ले गए भीड़
नगर निगम प्रशासन ने रघुराजगढ़ भीड़ ले जाने के लिए 10 बसों का उपयोग किया। जिसमें निपनिया तिराहा, चोरहटा नहर, नीम चौराहा, निरालानगर गेट, समान टंकी, धोबियाटंकी, महाजन टोला, ललपा तालाब आदि स्थानों से एक-एक बस रवाना हुई। वहीं दो बस निगम कार्यालय से रवाना हुई थी जो लौटने के बाद यहीं तक यात्रियों को लेकर आई।

300 से अधिक बसें अधिग्रहीत

कार्यक्रम में भीड़ जुटाने के लिए जिला प्रशासन ने आरटीओ के जरिए 300 से अधिक बसें अधिग्रहीत की है। जनपद, वन, कृषि सहित अन्य विभागों को बसें सुपुर्द कर दी गईहैं। करीब अस्सी हजार से एक लाख भीड़ जुटाने का लक्ष्य रखा गया है। जिला प्रशासन ने बसों को फील्ड में भेजने के लिए आरटीओ को करीब दस लाख रुपए एडवांस भुगतान कर दिया है। सभी विभागों को बकायदे भीड़ जुटाने के लिए लक्ष्य दिया गया है। चुनावी साल होने के चलते क्षेत्रीय विधायक सहित टिकट के दावेदार भी भीड़ जुटाने में जोर लगा रहे हैं।

BJP Congress
Manoj singh Chouhan Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned