बाहरी लोगों ने स्कूल में मारपीट, आरोपियों में महिलाएं भी शामिलं

फ्लावरवेल स्कूल के संचालन को लेकर गुरुवार को जमकर विवाद हुआ।

By: prashant sahare

Published: 18 Aug 2017, 05:03 PM IST

परासिया. फ्लावरवेल स्कूल के संचालन को लेकर गुरुवार को जमकर विवाद हुआ। इसमें 15 विद्यार्थियों से बाहरी व्यक्तियों द्वारा मारपीट करने की शिकायत की गई है। घटना के बाद विद्यार्थियों एवं बालकों ने चांदामेटा बस स्टैंड पर चक्काजाम कर थाने का घेराव किया। इसके बाद पुलिस ने बच्चों का मुलाहिजा करवाया।


स्कूल प्राचार्य व छात्रों द्वारा थाने में दी गई शिकायत के अनुसार गुरुवार को स्थानीय निवासी पूरन राजलानी कुछ लोगों के साथ सुबह आठ बजे फ्लावरवेल स्कूल पहुंचे और प्राचार्य कक्ष का ताला तोड़कर कार्यालय में बैठ गए। जब प्राचार्य एवं स्टॉफ के लोग स्कूल पहुंचे तो वे कुछ न कर सके। सुबह की प्रार्थना के बाद पूरन राजलानी ने विद्यार्थियों से कहा कि उन्होंने स्कूल का संचालन अपने हाथों में ले लिया है।

यह सुनते ही विद्यार्थियों ने विरोध शुरू किया और वापस जाने के नारे लगाने लगे। इस पर पूरन राजलानी के समर्थक जिनमें महिलाएं भी शामिल थीं, भड़क गए और विद्यार्थियों से मारपीट की। इस घटना की सूचना मिलते ही पालक व नगरवासी स्कूल पहुंचने लगे। वहीं तहसीलदार सरोज परिहार, एसडीओपी सुरेश कुमार दामले चांदामेटा भी पहुंचे। कलेक्टर के निर्देश पर बच्चों का मुलाहिजा करवाया गया। इधर एसडीएम सुनीता खंडायत ने विधायक सोहन वाल्मिक समेत अन्य अधिकारियों व पदाधिकारियों से इस पर चर्चा की। वहीं अविभावकों ने एसडीएम को ज्ञापन सौंपकर मामला जल्द निपटाने की मांग की है।

छह लोगों पर प्रकरण दर्ज
थाना प्रभारी एमएस मर्सकोले ने बताया कि मारपीट करने पर पूरन राजलानी, विजयानंदनी शर्मा, पूजा भारद्वाज, फेमिदा खान, शालिनी सिंह समेत एक युवक के विरुद्ध भादवि धारा 294, 323, 506, 34 के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है।


कार्रवाई होनी चाहिए
स्कूल में लगातार कब्जा करने की कोशिश की जा रही है। इस पर रोक लगनी चाहिए, चूंकि स्कूल के संचालन को लेकर न्यायालय से कोई स्पष्ट आदेश नहीं है, लेकिन बाहरी हस्तक्षेप के कारण स्कूल का वातावरण बिगड़ रहा है। प्रशासन को पालकों एवं स्कूल स्टॉफ, विद्याॢथयों की मंशानुसार कार्रवाई करनी चाहिए।

सोहन वाल्मिक, विधायक परासिया


बिगड़ रहा है माहौल
स्कूल में बार-बार विवाद होने से माहौल बिगड़ रहा है। इस बात की जानकारी कलेक्टर को दी गई है।
स्कूल में बाहरी लोगों के आने पर दो दिन के लिए प्रतिबंध लगाया दिया गया है। फिलहाल स्कूल संचालन के लिए प्रशासनिक अधिकारी की नियुक्ति के बारे में निर्णय लिया जा रहा है।
सुनीता खंडायत, एसडीएम

prashant sahare
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned