नींद में था पूरा परिवार, सुबह 5 बजे घर में घुसी लोकायुक्त टीम, करोड़ों की संपत्ति उजागर

शुक्रवार सुबह 5 बजे आगर मालवा जिले में लोकायुक्त का छापा...।

By: Manish Gite

Updated: 05 Mar 2021, 04:16 PM IST

 

आगर मालवा। मध्यप्रदेश के आगर मालवा जिले में शुक्रवार को सुबह लोकायुक्त की टीम ने छापामार कार्रवाई की। लोकायुक्त ने छापा ऐसे समय मारा जब पूरा परिवार नींद में था। अचानक लोकायुक्त की टीम को देख पूरे परिवार में हड़कंप मच गया, किसी को घर से बाहर नहीं जाने दिया और टीम ने अपनी कार्रवाई शुरू कर दी। खबर लिखे जाने तक भारी मात्रा में नकदी और जवाहरात की गिनती की जा रही थी।

 

आगर मालवा जिले के जिले के नलखेड़ा विकासखंड के ग्राम दमदम सहकारी सोसायटी में पदस्थ प्रबंधक के घर लोकायुक्त का छापा सुबह 5 बजे पहुंची लोकायुक्त टीम नलखेड़ा एवं दमदम दोनों स्थानों पर चल रही है कार्रवाई मामला आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने का।

 

लोकायुक्त टीम में शामिल निरीक्षक बसंत श्रीवास्तव ने बताया की प्रारंभिक जांच पड़ताल में आय से अधिक संपत्ति सामने आई है। प्रबंधक रमेश जायसवाल के यहां 30 बीघा जमीन के दस्तावेज मिले जिसमें से लगभग 20 बीघा 2004 के बाद 45 लाख में क्रय की है।

 

नलखेड़ा मे दो मंजिला मकान 900 वर्ग फीट में दो मंजिला 25 लाख। ग्राम दमदम मे 800 वर्ग फीट में मकान दो मंजिला 15 लाख, ग्राम दमदम मे निर्माणधीन फार्म हाउस 4000वर्ग फीट 10 लाख, एक चार पहिया वाहन 9 लाख, एक ट्रैक्टर 5 लाख,तीन दो पहिया वाहन 2 लाख, चांदी लगभग 1 किलो, सोना घर और लॉकर में लगभग 250 ग्राम, नकद करीब 1.5 लाख शामिल है। टीम द्वारा कार्रवाई की जा रही है।

 

इससे पहले 2016 में भी आगर मालवा जिले के सुसनेर में सहकारी संस्था गणेशपुरा में प्रबंधक कैलाशचंद जैन के घर सुबह-सुबह उज्जैन लोकायुक्त पुलिस ने छापामार कार्रवाई की थी। बसंत श्रीवास्तव निरीक्षक लोकायुक्त उज्जैन की टीम ने यह कार्रवाई की थी। कैलाशचंद जैन का वेतन 15 हजार रुपए महीना है, जबकि उनके पास आय से 200 प्रतिशत ज्यादा संपत्ति होने की जानकारी मिली थी।

 

सुसनेर में सहकारी संस्था प्रबंधक के घर लोकायुक्त का छापा

Show More
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned