सीए की छात्रा से मोबाइल लूटने वाला बदमाश निकला नमकीन शॉप कर्मचारी

- जूनी इंदौर थाना क्षेत्र का मामला
- पकड़ाने पर आरोपी बोला लोगों के हाथ में महंगे एंड्राइड मोबाइल देख आती थी चिड़

By: Krishnapal Singh

Published: 04 Oct 2018, 08:02 AM IST

सर्वोदय नगर में सीए की छात्रा से सनसनीखेज मोबाइल लूट कर भागे आरोपी को बुधवार को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उसकेबारे में पता चला है कि वह नमकीन शॉप कर्मचारी है। घटना के बाद उसने पकड़े जाने के डऱ से मोबाइल बंद कर लिए। जिस एक्टिवा से उसने वारदात की वह उसके सेठ के नाम पर है। जल्द उसे पीडि़ता के सामने पहचान के लिए लाएंगे।

टीआई देवेंद्र कुमार के मुताबिक सीए छात्रा नबीला २२ पिता इमरान कुरैशी निवासी बालाघाट से सनसनीखेज लूट कर भागे आरोपी अजय (१८) पिता श्रीराम जाधव निवासी खंडवा रोड को गिरफ्तार किया है। घटना के संबंध में उसका कहना है कि वह जब भी लोगों के हाथ में महंगे एंड्राइड फोन देखता है, उसे चिड़ आने लगती है। घटना दिनांक को नमकीन शॉप मालिक ने उसे जूनी इंदौर क्षेत्र में नमकीन पैक करने की थैली खरीदने के लिए भेजा। वह एक्टिवा से थैली खरीदने जाने लगा। तभी रास्ते में उसे हाथ में मोबाइल लिए छात्रा दिखी। उसने पता पूछने के बहाने उसे रोका और फिर मोबाइल छीनकर भाग गया। उसके द्वारा लूट में इस्तेमाल वाहन को जब्त किया है। आरोपी से थाने क्षेत्र में पूर्व में हुई वारदात के संबंध में पूछताछ कर रहे हैं। जल्द उसे घायल छात्रा के सामने लाया जाएगा। उसकी पहचान कराना बाकी है। इस संबंध में छात्रा के परिवार को सूचना दी है। आरोपी से लूटा हुआ मोबाइल भी जब्त किया है। आरोपी मूलत: खंडवा का रहने वाला है। मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर उसे पकड़ा है। वह गणेश नगर स्थित एक नमकीन शॉप पर पिछले तीन माह से काम कर रहा है।
यह है मामला

२४ सितंबर की शाम ७ बजे सर्वोदय नगर स्थित साधुवासवानी गार्डन के समीप पैदल जा रही छात्रा को एक्टिवा सवार आरोपी ने पता पूछने के बहाने रोका। कुछ देर बातों में उलझाए रखने के बाद उसने मौका पाकर मोबाइल लूट लिया। छात्रा ने साहस का परिचय देते हुए आरोपी को पकडऩे की कोशिश की। उसने एक्टिवा का हैंडल भी पीछे से कसकर पकड़ लिया। तब बदमाश ने पकड़े जाने के डर से वाहन की स्पीड बढ़ा दी। इससे कई मीटर घिसटने के बाद छात्रा का हाथ छूट गया। मौके पर २० मिनट से अधिक देरी तक छात्रा बेहोश पड़ी रही। राह चलते लोग उसे मूकदर्शन बने देखते रहे। इसके बाद स्थानीय युवक ने अन्य लोगों की मदद से उसे घायल हालत में हॉस्पिटल में भर्ती किया।

Krishnapal Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned