मौसम ने बिगाड़ा स्वास्थ्य, अस्पताल में मरीजों की भीड़

Gopal Bajpai

Publish: Dec, 08 2017 11:05:06 AM (IST)

Agar, Madhya Pradesh, India
मौसम ने बिगाड़ा स्वास्थ्य, अस्पताल में मरीजों की भीड़

पिछले ४ दिनों के अंतराल में मौसम में आए परिवर्तन का असर जनजीवन पर देखने को मिल रहा है।

आगर-मालवा. पिछले ४ दिनों के अंतराल में मौसम में आए परिवर्तन का असर जनजीवन पर देखने को मिल रहा है। लोगों के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल असर होता नजर आ रहा है। जिला अस्पताल में पिछले ४ दिनों के दौरान ओपीडी में करीब १८०० से अधिक मरीजों ने पंजीयन कराया। हालांकी स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारियों का कहना है कि यह सीजन हेल्दी सीजन के रूप में माना जाता है। जो मरीज आ रहे हैं वो सर्दी-जुखाम या अन्य छोटे-मोटे वायरल से पीडि़त आ रहे हैं। सर्दी-जुखाम व वायरल से पीडि़त मरीजों की संख्या एकाएक पिछले ४ दिनों में खासी बढ़ती हुई दिखाई दी। साधारण दिनों में जिला अस्पताल में ३०० से ३५० लोगो के पंजीयन ओपीडी में होते हैं लेकिन पिछले ४ दिनों में प्रतिदिन यह आंकड़ा ४५० से अधिक तक जा पहुंचा। जो मरीज अस्पताल पहुंच रहे हैं उनमें से अधिकांश या तो वायरल से पीडि़त हैं या फिर सर्दी-जुखाम से पीडि़त हैं । गुरुवार सुबह एवं शाम को ओपीडी में खासी भीड़ देखी गई। सामान्य बुखार एवं सर्दी-खांसी से पीडि़त मरीजों की संख्या में जरूर इजाफा हुआ है लेकिन यह सीजन स्वास्थ्य के लिए उचित सीजन होता है। चिंता की कोई बात नहीं है।
डॉ. डीएस परमार, सिविल सर्जन, जिला अस्पताल आगर

वातावरण में आए बदलाव का असर गुरुवार को भी व्यापक पैमाने पर दिखाई दिया। दोपहर ११ बजे तक सड़कें लगभग सुनसान नजर आईं। कलेक्टर के आदेश के बाद स्कूलों में जाने वाले बच्चों को जरूर आंशिक राहत मिली। सुबह ७:३० से ८ के बीच लगने वाले सभी स्कूल ९ बजे से लगे। जानकारी के अभाव में कुछ स्कूलो का संचालन पूर्व वत समय के अनुसार ही हुआ।

 

गुरुवार को मौसम जरूर ठंडा रहा लेकिन बूंदाबांदी न होने से दोपहर बाद बाजार में चहल-पहल दिखाई दी। शाम होते-होते पारा लुढ़कता गया। नगर पालिका ने ठंड को दृष्टिगत रखते हुए प्रमुख चौराहों तथा भीड़भाड़ वाले क्षेत्र में अलाव की व्यवस्था की गई। ठंड का असर एक बार फिर बाजार में दिखाई दिया। मौसम ठंडा होने के कारण लोग बाहर निकलने से भी कतराते रहे और घरों में दुबके रहे। इसका असर शासकीय कार्यालयों में भी दिखाईदिया। अधिकारी-कर्मचारी तो कार्यालयों में तैनात थे लेकिन गुरुवार को आम लोगों की आवाजाही न के बराबर रही।

Ad Block is Banned