चंबल के बीहड़ में किशोर की बेरहमी से हत्या, वजह हैरान कर देने वाली

चंबल के बीहड़ में किशोर की बेरहमी से हत्या, वजह हैरान कर देने वाली

Abhishek Saxena | Publish: Mar, 14 2018 10:14:58 AM (IST) Agra, Uttar Pradesh, India

कुकर्म के बाद की गई 12 वर्षीय किशोर की हत्या, 20 वर्षीय युवक ने दिया वारदात को अंजाम

आगरा। चंबल के बीहड़ में एक किशोर की बेरहमी से हत्या कर देने का मामला सामने आया है। किशोर के साथ पहले युवक ने कुकर्म किया, उसके बाद घटना का खुलासा न हो जाए इसलिए उसका गला रेतकर हत्या कर दी। हत्यारे ने किशोर के शव को बीहड़ में छुपा दिया ताकि वो पकड़ा ना जा सके। लेकिन, पुलिस ने शक के आधार पर उठाए गए युवक से जब कड़ाई से पूछताछ की तो पूरा मामला खुल गया। युवक की निशानदेही पर आला ए कत्ल और किशोर का शव दोनों बरामद कर लिए गए हैं।

बकरियां चराने बीहड़ में गया था किशोर
घटना आगरा के थाना मंसुखपुरा गांव के अमरुपुरा का है। बताया गया है कि यहां का निवासी 12 वर्षीय किशोर बकरियां चराने के लिए बीहड़ में गया था और मंगलवार को गायब हो गया था। देर शाम तक किशोर का कोई पता नहीं लगा तो परिवारीजन चिंतित हुए। वहीं किशोर के साथ चचेरे भाई ने परिजनों को बताया कि रामसिया और कुलदीप ने रोक लिया था। परिजनों ने पुलिस को सूचना दी। परिजनों ने पुलिस को जानकारी दी कि एक युवक के साथ किशोर को देखा गया था। इसके बाद पुलिस ने उस युवक की तलाश शुरू की। देर रात युवक पुलिस के हत्थे चढ़ा तो पुलिस ने युवक से पूछताछ शुरू की। पुलिस की सख्ती के आगे युवक ने सच उगल दिया। युवक ने बताया कि उसने किशोर की हत्या कर दी है और शव को चंबल के बीहड़ में फेंकर दिया था। पुलिस युवक को लेकर बीहड़ गई। पुलिस ने पूछताछ की तो बताया कि किशोर की कुकर्म के बाद चाकू से गला रेतकर हत्या कर दी। उसके शव को बीहड़ में फेंक दिया।

हत्या के बाद परिवार में मचा कोहराम
पुलिस ने रामसिया और कुलदीप की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त चाकू बरामद किया है। वहीं देर रात तीन बजे किशोर के शव को बरामद किया गया। किशोर का शव मिलने के बाद परिवारीजनों का रो रोकर बुरा हाल है। चंबल के बीहड़ों में इस तरह की घटना होने से ग्रामीणों में दहशत और आक्रोश का माहौल व्याप्त है। वहीं इस घटना के बाद एसपीआरए ने पहुंचकर पूरी जानकारी प्राप्त की है। पुलिस जल्द ही हत्यारोपियों को सामने लाकर पूरे मामले की जानकारी देगी।

Ad Block is Banned