आगरा मंडल में जनता कर्फ्यू का लोगों ने दिया भरपूर साथ, कुछ का किया गया चालान

आगरा, फ़िरोज़ाबाद, मैनपुरी और मथुरा जैसे प्रमुख शहरों में सड़कों पर लोगों की आवाजाही न के बराबर दिखी।

By: Abhishek Gupta

Published: 22 Mar 2020, 03:56 PM IST

आगरा. कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गई जनता कर्फ्यू लगाने की अपील का असर आगरा मंडल में देखने को मिला है। आगरा, फ़िरोज़ाबाद, मैनपुरी और मथुरा जैसे प्रमुख शहरों में सड़कों पर लोगों की आवाजाही न के बराबर दिखी। दवाईयों, डेयरी जैसी जरूरत वाली दुकानें जरूर खुली नजर आई, लेकिन वह भी जल्द बंद करा ली गई। होटल, रेस्टॉरेंट, शोरूम बन्द रहे, पब्लिक ट्रांसपोर्ट पूरी तरह से ठप दिखा। कुल मिलाकर जनता कर्फ्यू को जनता का जमकर समर्थन मिला। मथुरा में जनता से लाउड स्पीकर से अपील भी की गई कि वह अपने घर में ही रहे व कोरोना से लड़ने के लिए जनता कर्फ्यू में साथ दें। कान्हा की नगरी मथुरा में प्रमुख बाजार पूरी तरह से बंद हैं, तो शहर में जगह-जगह को सेनेटाइज कराया जा रहा है। वहीं फिरोजाबाद में भी रोड़ पर सन्नटा पसरा नजर आया। जनता साफ तौर पर पीएम मोदी की अपील पर समर्थन करती दिख रही है। फिरोजाबाद में सुबह कुछ पेट्रोल पंप खुले नजर आए, तो प्रशाहन हरकत में आया और विक्रेताओं से आग्रह किया कि जरूरत हो तभी पेट्रोल बेंचे।

Agra Janta Curfew

आगरा- ताजनगरी आगरा में बीते कुछ दिनों से ही एहतियातन सारी कई सेवाए ठप है। वहीं जनता कर्फ्यू के देखते हुए रविवार को सुबह सात बजे से पहले लोहामंडी, हसनपुरा चौराहा स्थित दूध की दुकानों पर लोगों की भीड़ नजर आयी। एमजी रोड, माल रोड, राजपुर चुंगी में एक दो चाय की दुकानों को छोड़कर सभी दुकानें बंद थी। राजेश्वर महादेव मंदिर में सुबह 7 बजे से पहले ही भक्त दर्शनों को पहुंच रहे थे। उन्हें जनता कर्फ्यू शुरू होने से पहले दर्शन करने की लालसा थी। ताजगंज में सभी दुकानें बंद रहीं। होटल, रेस्टोरेंट, पेइंग गेस्ट हाउस बन्द रहे। सर्किट हाउस में अन्य दिनों की अपेक्षा कम मॉर्निंग वाकर्स नजर आए।

Mathura Janta Curfew

मथुरा- भगवान श्रीकृष्ण की जन्मस्थली पर भी जनता कर्फ्यू का असर देखने को मिला। भगवान श्रीकृष्ण की जन्मस्थली के मुख्य द्वार पर एक बैनर लगाया गया जिसमें कोरोनावायरस के बचाव और जनता से अपील की गई कि वह जनता कर्फ्यू में अपना योगदान दें। वही होली गेट के साथ-साथ अन्य जगहों को भी नगर निगम कर्मचारियों और अधिकारियों द्वारा सैनिटाइज कराया गया और लगातार सफाई कर्मी सफाई करते दिखे। हालांकि रोजमर्रा की खाने पीने की चीजों के लिए कुछ दुकाने खुली रही, वहीं मेडिकल स्टोर भी खुले हुए हैं ताकि अगर कोई इमरजेंसी हो तो जरूरी दवाइयां उपलब्ध कराई जा सके। नेशनल हाईवे 2 पर भी वाहनों की रफ्तार जनता कर्फ्यू की वजह से थमी दिखी और लोग अपने घरों से जरूरी काम के लिए ही निकलते दिखे।

Firozabad Janta Curfew

फिरोजाबाद- फिरोजाबाद में जनता कर्फ्यू का पूरा असर सुहागनगरी में रहे इसके लिए पुलसि की गाड़ियां लगातार दौड़ती रहीं। इसके अलावा माइकों से भी लोगों से कहा जा रहा था कि वे अपने घरों पर ही रहें। फ़िरोज़ाबाद जिले की तहसीलों व गांवों में जनता कर्फ्यू का साफ असर नजर आ रहा है। गांव तक से लोग घरों से बाहर नहीं निकल रहे। विभिन्न गलियों, सड़कों व हाइवे पर पुलिस फोर्स तैनात है। पुलिस हर आने जाने वालों से पूछताछ कर रही है। फ़िरोज़ाबाद के सुभाष तिराहा पर एसपी सिटी प्रबल प्रताप सिंह ने अनावश्यक रूप से सड़कों पर घूमने वालों के चालान भी कि। पुलिस की सख्ती को लेकर लोग घरों में कैद रहे। वहीं कुछ पेट्र्रोल पंप खुले नजर आए जो बाद में बंद करा दिए गए।

mathura Janta Curfew

मैनपुरी- मैनपुरी के लोगों ने भी भी शासन और प्रशासन के साथ कंधे से कंधा मिलाकर जनता कर्फ्यू में साथ दिया। शहर से लेकर कस्बों में दुकानें पूरी तरह से बंद रहीं। लोगों ने अपना समय घर पर रहकर बिताया। वहीं सुरक्षा की दृष्टि से चौराहों पर पुलिस और मजिस्ट्रेट तैनात रहे। डीएम महेंद्र बहादुर सिंह और एसपी अजय कुमार ने जिलेभर में गश्त किया। इस बीच सड़कों पर एक-दो लोग घूमते हुए दिखे तो अफसरों ने उनसे कारण पूछा।

coronavirus
Show More
Abhishek Gupta Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned