वेलेंटाइन डे पर गर्लफ्रेंड को महंगा गिफ्ट देने के लिए युवक ने किया कुछ ऐसा कि पड़ गए लेने के देने...जानिए क्या है पूरा मामला!

वेलेंटाइन डे पर गर्लफ्रेंड को महंगा गिफ्ट देने के लिए युवक ने किया कुछ ऐसा कि पड़ गए लेने के देने...जानिए क्या है पूरा मामला!
gift

suchita mishra | Publish: Feb, 14 2019 12:57:00 PM (IST) | Updated: Feb, 14 2019 12:57:01 PM (IST) Agra, Agra, Uttar Pradesh, India

आगरा में गर्लफ्रेंड को महंगा गिफ्ट देने के लिए एक युवक ने लाखों की चोरी को अंजाम दे डाला।

आगरा। कहते हैं कि जब इश्क का जुनून सिर पर सवार होता है तो इंसान कुछ भी करने को तैयार हो जाता है। कुछ ऐसा ही मामला आगरा में आया है। यहां सुभाष पार्क के सामने स्थित बीके शूज कंपनी में हुई चोरी के मामले में पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों में से एक कंपनी का पूर्व कर्मचारी है। पूछताछ में पूर्व कर्मचारी ने बताया कि वो इस साल वेलेंटाइन डे पर अपनी गर्लफ्रेंड को महंगा गिफ्ट देना चाहता था, इसलिए उसने चोरी की घटना को अंजाम दिया। पुलिस ने उनके पास से चोरी की गई रकम में से 12.5 लाख रुपये बरामद कर लिए हैं।

सीसीटीवी से हुई पहचान
सूर्या नगर निवासी सुभाष चंद्र मिड्डा की बीके शूज कंपनी में 10 फरवरी की रात को चोरी हुई थी। पहले चोरी गई रकम 1.40 करोड़ रुपये बताई गई थी। दोपहर में यह रकम एक अलमारी में रखी मिल गई थी। कंपनी मालिक ने 9.50 लाख रुपये चोरी का मुकदमा दर्ज कराया। उस समय कंपनी के पूर्व कर्मचारी राजेश का चेहरा सीसीटीवी कैमरे में पहचान लिया गया था। इसके बाद उसकी तलाश जारी थी।

पहले भी की थी चोरी
फिलहाल पुलिस ने आरोपी राजेश कुमार और सुशील कुमार उर्फ रिंकू को गिरफ्तार किया गया है। उनके पास से 12,49,200 रुपये, दो गैस सिलेंडर, एक छोटा गैस कटर, एक चाबी का गुच्छा बरामद किया गया है। राजेश पूर्व में आठ साल से कंपनी में सेल्समैन की नौकरी कर रहा था। पूछताछ में उसने बताया कि दिसंबर 2018 में उसने 12 लाख रुपये चोरी कर लिए थे। इसका पता चलने पर उससे रकम बरामद कर ली गई थी। इसके बाद मालिक ने उसे कंपनी से निकाल दिया था। लेकिन इसकी शिकायत पुलिस से नहीं की थी।

गर्लफ्रेंड को देना चाहता था महंगा गिफ्ट
राजेश अच्छी तरह जानता था कि कंपनी में करोड़ों का लेन-देन होता है। वो अपनी गर्लफ्रेंड को वेलेंटाइन डे पर महंगा गिफ्ट देना चाहता था। साथ ही कर्ज चुकाने और घर खर्च के लिए भी रुपयों की जरूरत थी। लिहाजा उसने फिर से चोरी की योजना बनायी। 15 दिन पहले अपने मित्र चांदी कारीगर सुशील उर्फ रिंकू और आटो चालक मनीष उर्फ अऊवा उर्फ इरफान के साथ रेकी की। इसके बाद चोरी की घटना को अंजाम दिया। इस दौरान उसे 20
लाख रुपये कंपनी में रखे मिले। राजेश ने तकरीबन आठ लाख रुपये लिए। वहीं सुशील कुमार और मनीष ने छह-छह लाख रुपये बांट लिए थे। सीओ ने बताया कि आरोपियों से 12,49,200 रुपये बरामद हुए थे। मगर कंपनी मालिक ने 9.50 लाख रुपये चोरी का मुकदमा दर्ज कराया था। इसके बाद फिर से मालिक से बात की गई तो उन्होंने रकम का फिर से मिलान किया। तब 20 लाख चोरी की बात सामने आयी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned