नीम की दातुन को लेकर हुआ कुछ ऐसा, कि चार लोग पहुंच गए अस्पताल, जानिए क्या है मामला

पुरानी रंजिश में हुआ संघर्ष, एक पक्ष ने रोक दिया था नाली का पानी, फेंकी गई दातून दूसरे पक्ष के घर के सामने पहुंचने पर हुआ विवाद

By: धीरेंद्र यादव

Published: 06 Jun 2018, 06:08 PM IST

आगरा। बाह थाना क्षेत्र के गांव मई में नीम की दातून ने कुछ ऐसा करा दिया कि दो पक्षों में जमकर लाठी-डंडे चल गए। एक पक्ष ने दूसरे के घर पर जमकर पथराव किया और उन्हें घर में बंद कर जमकरपिटाई की। इससे एक ही पक्ष के चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। मौके पर जुटी भीड़ ने उन्हें किसी तरह शांत कराया। मौके पर पहुंची पुलिस को देख दबंग पक्ष के लोग मौके से भाग गए। पुलिस ने घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य बाह में भर्ती कराया। वहां से डॉक्टरों ने दो लोगों की दशा गंभीर देखते हुए आगरा एसएन मेडिकल कालेज के लिए रेफर कर दिया है।

पुरानी रंजिश में किया गया हमला
दरअसल, मई गांव के पूरन सिंर और जयवृक्ष पक्ष में पुरानी रंजिश चल रही है। जिसके तहत दो दिन पहले जयवृक्ष ने अपने घर के सामने नाली का पानी रोक दिया था। बुधवार की सुबह पूरन सिंह का पुत्र नरेंद्र सिंह अपने घर के सामने दातून कर रहा था। बाद में उसने दातून को नाली में फेंक दिया। जो पानी के साथ बहकर जयवृक्ष के घर के सामने पहुंच गई। इसे देखकर जयवृक्ष पक्ष के लोग भड़क गए। आरोप है कि उन्होंने नरेंद्र सिंह के साथ गालीगलौज कर दी। यह देख नरेंद्र सिंह पक्ष के लोग भी मौके पर पहुंच गए। तब उनके बीच जमकर लाठी-डंडे चले। इससे गांव में भगदड़ मच गई। किसी तरह गांव के लोगों ने उन्हें शांत कराया।

घर में घुसकर किया हमला, युवक का कान कटा
दोनों पक्षों में एक बार विवाद शांत हो जाने के कुछ ही देर बाद रामवृक्ष पक्ष ने पूरन सिंह के घर पर हमला कर दिया। आरोप है कि उन्होंने परिवार के लोगों ने घर में बंद कर जमकर पिटाई की। और पथराव किया। इस दौरान पूरन सिंह के पुत्र नरेंद्र सिंह का कान कट गया। कुछ ही देर में ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस को देख हमलावर पक्ष मौके से भाग गया।

एक ही परिवार के चार लोग हुए घायल
संघर्ष के दौरान पूरन सिंह पक्ष के पूरन सिंह, उनकी पत्नी उर्मिला देवी, उनका पुत्र नरेंद्र सिंह और शिवम घायल हो गए। पुलिस ने उन्हें सीएचसी बाह में भर्ती कराया। वहां से डॉक्टरों ने नरेंद्र सिंह और उसकी मां उर्मिला देवी को आगरा के लिए रेफर कर दिया। बाद में पीड़ित पक्ष ने घटना के संबंध में थाने में तहरीर दी।

 

Show More
धीरेंद्र यादव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned