Dhanteras पर सोने के गहने खरीदने का प्लान है तो ये खबर जरूर पढ़ लें ताकि ठगी से बच सकें...

Dhanteras पर सोने के गहने खरीदने का प्लान है तो ये खबर जरूर पढ़ लें ताकि ठगी से बच सकें...
gold

suchita mishra | Updated: 30 Oct 2018, 02:25:07 PM (IST) Agra, Uttar Pradesh, India

धनतेरस (Dhanteras) पर आमतौर पर सोने के गहने (Gold Jewellery) आदि खरीदने का चलन है, ऐसे में सोने की शुद्धता के लिए कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है।

पंच दिवसीय दीपोत्सव त्योहार 5 नवंबर 2018 को धनतेरस (Dhanteras) से शुरू होने जा रहा है। 5 नवंबर को धनतेरस है, इसके दो दिन बाद दिवाली का त्योहार होता है। इस दिन गणेश लक्ष्मी का पूजन किया जाता है और घर में गहने या धातु आदि खरीदने का चलन है। इसे समृद्धि का प्रतीक माना जाता है। यदि आप भी इस बार Dhateras पर gold Jewellery खरीदने की योजना बना रहे हैं, तो एक बार पूरी खबर जरूर पढ़ लें। ताकि त्योहार के इस मौके पर किसी भी तरह की ठगी का शिकार होने से बच सकें। जानिए कुछ ऐसी टिप्स जिनसे आप सोने की शुद्धता को खुद परख सकते हैं।

नियमित रूप से सोने के रेट पर नजर रखें
त्योहार के दौरान नियमित रूप से सोने के रेट पर नजर रखें। धनतेरस के दिन जब गहने खरीदने जाएं तो इस फार्मूले के जरिए मूल्य निकालें। (आज का रेट/24)xजितने कैरेट का सोना खरीदना हो। जैसे यदि मार्केट में 24 कैरेट सोने की कीमत 27 हजार रुपए है तो (27000/24)x22=24750 रुपए यानी 22 कैरेट के गहने की कीमत 24750 रुपए होगी। इसके अलावा सुनार हो आपसे आभूषण बनवाई के नाम पर कुछ रुपए ले सकते हैं, जिसमें कई बार मोलभाव भी हो जाता है।

22 कैरेट सोने से बनते गहने
कई बार सर्राफ ये भांप लेता है कि खरीददार को सोने की कोई जानकारी नहीं है। ऐसे में वो 24 कैरेट सोने का आभूषण बताकर बेच देता है। ध्यान रखें 24 कैरेट के सोने का आभूषण कभी नहीं बनता क्योंकि सबसे शुद्ध सोना 24 कैरेट का ही होता है और ये बेहद मुलायम होता है। आभूषणों के लिए 22 कैरेट सोने का इस्तेमाल किया जाता है। यदि हीरा जड़ा है तो 18 कैरेट सोने का इस्तेमाल होता है क्योंकि हीरे को पकड़ के लिए मजबूती जरूरी होती है।

अंकों से करें पहचान
ज्वैलरी हॉलमार्क का निशान वाली ही खरीदें क्योंकि हॉलमार्क सरकारी गारंटी है। हॉलमार्क के निशान के साथ ज्वैलरी पर कुछ अंक जैसे 999, 916, 875 आदि लिखे होते हैं। इन अंको के जरिए सोने की शुद्धता को परखा जाता है। 999 नंबर वाली ज्वैलरी 24 कैरेट की होती है, 958 नंबर वाली 23 कैरेट की, 916 वाली 22 कैरेट, 875 वाली 21 कैरेट और 750 नंबर वाली 18 कैरेट की होती है।

रसीद जरूर लें
गहने खरीदने के बाद सुनार से पक्की रसीद जरूर लें। इसके अलावा रसीद लेते समय देख लें कि बिल में सोने का कैरेट, मेकिंग चार्ज और हॉलमार्क का जिक्र जरूर हो।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned