70 साल से नहीं ली इस जमीन की सुध, अब बहुरेंगे दिन

70 साल से नहीं ली इस जमीन की सुध, अब बहुरेंगे दिन

Abhishek Saxena | Publish: Mar, 14 2018 06:58:17 PM (IST) | Updated: Mar, 14 2018 06:58:18 PM (IST) Agra, Uttar Pradesh, India

आगरा में एसएन मेडिकल कॉलेज के लिए स्वीकृत थी जमीन लेकिन, विभाग ने नहीं ली सुध

आगरा। एसएन मेडिकल कॉलेज के लिए 70 साल पहले गैलाना पर जमीन स्वीकृत हुई थी। लेकिन कॉलेज प्रबंधन ने इस पर कोई संज्ञान नहीं लिया। जिसके चलते इस भूमि पर कोई निर्माण कार्य नहीं हुआ। लेकिन, अब इस जमीन के दिन बहुरने वाले हैं। यहां जिला मुख्यालय को शिफ्ट किया जाएगा। गैलाना में जिला मुख्यालय शिफ्ट होने की खबर के बाद लोगों में उत्सुकता जागृति हुई है। लोग मानते हैं कि अब इस क्षेत्र के दिन भी बदल जाएंगे।

आगरा की सालों पुरानी कलक्ट्रेट को हटाया जाएगा, यहां से डीएम और एसएसपी कार्यालय को शिफ्ट किया जाएगा, इसके लिए प्रस्ताव भेजा गया है। बता दें कि एसएन मेडिकल कॉलेज मोती कटरा में पुरानी जगह पर ही संचालित है। ऐसे में चिकित्सा विभाग की सहमति प्राप्त करने के बाद गैलाना में डीएम कार्यालय और एसएसपी कार्यालय का निर्माण करने का प्रस्ताव तैयार किया गया है। 11 हेक्टेयर भूमि को राजस्व विभाग को उपलब्ध कराने का प्रस्ताव भेजा गया है।

यहां बनना था मेडिकल कॉलेज
कलक्ट्रेट के लिए 11 हेक्टेयर जो जमीन चिन्हित की गई है, यहां पहले मेडिकल कॉलेज बनना था। एसएन मेडिकल कॉलेज को शिफ्ट करने का प्रस्ताव आगे नहीं बढ़ सका। एसएन के लिए चिन्हित की गई जगह में कलक्ट्रेट को शिफ्ट करने का प्रस्ताव तैयार किया गया है। गौरतलब है कि
आगरा में एमजी रोड पर 150 साल पुरानी कलक्ट्रेट है, इसमें जिलाधिकारी और एसएसपी के कार्यालय हैं। वहीं कोषागार और न्यायालय भी हैं। कलेक्ट्रेट परिसर में एनआईसी और एसीएम के विभाग होने से यहां भीड़ रहती हैं। किसी भी प्रदर्शन या चुनावी कार्यक्रम के दौरान यहां भारी भीड़ उमड़ती है तो एमजी रोड पर जाम के हालात पैदा हो जाते हैं। जिलाधिकारी गौरव दयाल ने कलेक्ट्रेट को शिफ्ट करने के लिए 70 साल पहले आगरा में नए मेडिकल कॉलेज के निर्माण के लिए 11.823 हेक्टेयर भूमि मौजा गैलाना मुस्तकिल में चिन्हित की गई थी, उसे चुना है। इसके लिए प्रस्ताव तैयार किया गया है।

लोगों में उत्साह, बदल जाएंगे यहां के हालात
गैलाना में कलेक्ट्रेट और अन्य विभाग शिफ्ट होने की खबर ने ही यहां के लोगों में उत्साह जगा दिया है। स्थानीय लोगों का कहना है कि यहां विकास कार्य कई सालों से नहीं हुए। अब नया मुख्यालय बनेगा तो विकास का पहिया भी यहां से गुजरेगा। ऐसे में सड़क, बिजली और पानी की सुविधा में इजाफा होगा।

Ad Block is Banned