डेंगू, चिकनगुनिया पर जिलाधिकारी ने की शहरवासियों से ये अपील

डेंगू, चिकनगुनिया पर जिलाधिकारी ने की शहरवासियों से ये अपील
Dengue

Vikas Kumar | Publish: Sep, 21 2016 04:01:00 PM (IST) Agra, Uttar Pradesh, India

शहरवासियों से जिलाधिकारी ने अपील की है कि वे बीमारियों से बचने के लिए क्या करें। 

आगरा। शहर में डेंगू, वायरल, मलेरिया और चिकनगुनिया लोगों को चपेट में ले रहा है। रोगों पर नियंत्रण रखने के लिए डीएम ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं। वहीं शहरवासियों से जिलाधिकारी ने अपील की है कि वे बीमारियों से बचने के लिए क्या करें। 

डीएम बोले जनता करें ये उपाय

जिलाधिकारी गौरव दयाल ने जनता से अपील की है कि  मलेरिया, डेंगू, चिकिनगुनिया से बचाव के लिए घरों में लार्वानाशक कीटनाशक का छिड़काव करें। घर के कूलर, बाल्टी, प्लॉवर पॉट, फ्रिज घड़ों और अन्य बर्तनों में जमा हुए जल को सप्ताह में एक बार अवश्य बदलें। घर के आस पास अनावश्यक पानी जमा होने वाले स्थानों को मिट्टी से भर दें। यदि सम्भव हो तो मिट्टी का तेल कीटनाशक या डीजल का छिड़काव कर दें। जब भी तेज बुखार तेज दर्द हो तो तत्काल नजदीकी सरकारी अस्पताल में चिकित्सक से परामर्श कर उपचार कराएं। शरीर पर फुल कमीज, फुल पेन्ट तथा मोजे पहने तथा मच्छरदानी में सोएं और मॉसक्यूटो रिपेलैन्ट का प्रयोग करें।

कैंप में मिलेगा मरीजों को इलाज
जिलाधिकारी गौरव दयाल स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ बैठक में कहा कि डेंगू से बचाव ही इलाज है। वे बोले कि डेंगू और चिकिनगुनियां रोगों की जांच एसएन मेडिकल कालेज में हो रही है। शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में मरीजों के उपचार के लिए स्वास्थ्य कैम्प लगाये जा रहे हैं और एन्टीलार्वल, इन्सेक्टीसाईड छिड़काव किया जा रहा है। स्वास्थ्य केंन्द्रों पर मलेरिया की जांच हेतु स्लाइड बनायी जा रहीं हैं। डेंगू रोगियों के इलाज के लिए एसएन मेडिकल कालेज तथा जिला चिकित्सालय में 10-10 बेड रिजर्व कर दिये गये हैं तथा सभी दवाइयों की प्रर्याप्त मात्रा उपलब्ध है।
     
कंट्रोल रूम पर करें फोन
मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. बीएस यादव ने बताया कि संक्रामक रोग से सम्बन्धित सूचना सीएमओ कार्यालय के फोन नंबर 0562-2600412 पर दी जा सकती है। बिना जांच और चिकित्सीय सलाह के कोई दवा तथा इलाज ना लें। वे बोले कि मलेरिया, डेंगू, चिकिनगुनिया मच्छर जनित बीमारियां हैं। इन बीमारियों के मच्छर पानी में अण्डे देते हैं। बुखार होने पर नजदीकी सरकारी अस्पताल, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, समुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर उपचार कराएं।

रोजाना हो रही जांचें
शहर की पैथोलॉजी पर रोजाना डेंगू, चिकनगुनिया और मलेरिया की सैकड़ों जांच आ रही हैं। स्वास्थ्य विभाग में अब तक जनवरी से ​इस महीने तक मलेरिया की करीब 1,5045 सेंपल आ चुके हैं। इनमें से करीब 35 मरीजों की पुष्टि हुई है। वहीं एक महीने में डेंगू के 14 केसों की पुष्टि हुई है। चिकनगुनिया के मरीज निजी पैथोलॉजी में पहुंच रहे हैं। सरकारी पैथोलॉजी लैब में अब तक मात्र आधा दर्जन सेंपल ही जांच के लिए आए हैं। जिनमें से मात्र एक मरीज की ही पुष्टि हुई है।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned