हनीमून पर डॉक्टर पति पत्नी से बोला- मैं 'गे' हूं, जानिये फिर क्या हुआ

Highlights

- शादी के दो दिन बाद हनीमून पर हुआ पति के समलैंगिक होने का खुलासा

- नवविवाहिता ने पति समेत दर्जनभर लोगों के खिलाफ दर्ज कराया केस

By: lokesh verma

Published: 02 Oct 2020, 12:46 PM IST

आगरा. परिवार वालों ने बेटी की एक डॉक्टर के साथ बड़ी धूमधाम से शादी की थी, लेकिन उनके हनीमून के दौरान कुछ ऐसा हुआ कि दुल्हन के अरमानों पर पानी फिर गया। नवविवाहिता के परिजनों ने डॉक्टर दामाद समेत दर्जनभर ससुरालियों पर धोखाधड़ी, दहेज उत्पीड़न और मारपीट का मुकदमा महिला थाने में दर्ज कराया है। नवविवाहिता ने बताया कि मनाली में हनीमून के दौरान डॉक्टर पति ने बताया कि वह किसी लड़के से प्यार करता है और वह समलैंगिक (Gay) है। इतना ही नहीं पति ने उसे पहाड़ से धक्का देने का प्रयास भी किया। इसके बाद वह काउंसलिंग के लिए तैयार हो गई, लेकिन बात नहीं बन सकी।

यह भी पढ़ें- आठ वर्षीय बच्ची से दुष्कर्म के आरोप में नाबालिग पुलिस हिरासत में

बता दें कि नवविवाहित पीड़िता एक शिक्षिका है। उसकी शादी मई 2019 में हाथरस के रहने वाले एक डॉक्टर से शादी हुई। परिवार वालों ने बड़े अरमानों के साथ धूमधाम से शादी की थी, जिसमें 30 लाख रुपए खर्च किए गए थे। शादी के दो दिन बाद दोनों हनीमून पर कुल्लू मनाली गए थे। जहां एक शानदार रिसोर्ट में बुक कराया गया था। पीड़िता ने बताया कि हनीमून पर पति का मूड उखड़ा हुआ था। इसको लेकर दोनों के बीच झगड़ा हुआ और पति ने उस पर हाथ उठा दिया।

शादी के तुरंत बाद पति का यह रूप देख वह घबरा गई। पति ने उसे कहा कि यह शादी उसकी मर्जी के खिलाफ हुई है। वह किसी और लड़के से प्यार करता है, वह समलैंगिक है। यह सुनकर उसके पैरों तले जैसे जमीन ही न रही। पीड़िता ने बताया कि हनीमून के दौरान पति ने पहाड़ से धक्का देकर उसे मारने का प्रयास भी किया। होटल में मारपीट के दौरान पुलिस भी आई थी, लेकिन वह कानूनी कार्रवाई नहीं चाहती थी। जैसे-तैसे मामला शांत हुआ और वह पति के साथ हनीमून से लौट आई। ससुराल पहुंचने पर पति ने फिर से पीटा और ससुराल वाले दहेज की मांग करने लगे तो वह मायके लौट आई।

पीड़िता ने बताया कि इसके बाद अगस्त 2019 में ससुराल वालों ने दस लाख रुपए की डिमांड की तो उसने पुलिस से शिकायत की। इसके बाद मामले में समझौते के लिए कई पंचायतें हुईं, लेकिन उनका भी कोई नतीजा नहीं निकल सका। पुलिस ने केस को परिवार परामर्श केंद्र भेजा तो वह हर तारीख पर जाती, लेकिन पति नहीं आता था। एक बार पति आया तो वह कुछ सुनने को तैयार नहीं हुआ। इस पर काउंसलिंग भी फेल हो गई। अब इस मामले में मुकदमा महिला थाने में दर्ज किया गया है। इस केस में पति डॉ. सुमित कपूर समेत दर्जनभर लोगों को आरोपी बनाया गया है।

यह भी पढ़ें- करोड़पति दरोगा की शिकायत करने वाले BJP के पूर्व विधायक को मिली परिवार समेत हत्या की धमकी

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned