राज्यमंत्री ने Builders से कहा- चिन्ता मत करो, मुख्यमंत्री से करूंगा बात

राज्यमंत्री ने Builders से कहा- चिन्ता मत करो, मुख्यमंत्री से करूंगा बात
राज्यमंत्री ने Builders से कहा- चिन्ता मत करो, मुख्यमंत्री से करूंगा बात

Dhirendra yadav | Updated: 15 Sep 2019, 12:17:53 PM (IST) Agra, Agra, Uttar Pradesh, India

-रियल एस्टेट कारोबारियों की बैठक में डॉ.जीएस धर्मेश ने दिया आश्वासन
-सर्किल दरों में वृद्धि हुई तो जरूरतमंद मकान व प्लॉट नहीं खरीद सकेंगे
-मध्य प्रदेश सरकार की तर्ज पर काम करने की सलाह भी दी गई

आगरा। रियल एस्टेट सेक्टर मंदी के दौर में गुजर रहा है। यदि वर्तमान सर्किल दरों में वृद्धि कर दी गयी तो आगरा का विकास रुक जायेगा। जरूरतमंद अपार्टमेन्ट, मकान व प्लॉट नहीं खरीद सकेंगे। यह मामला प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi adityanth) के समक्ष राज्यमंत्री डॉ. जीएस धर्मेश (Dr GS dharmesh) उठायेंगे और रियल एस्टेट सेक्टर की एक बैठक मुख्यमंत्री के साथ भी करायेंगे। यह बात मंत्री डॉ. जीएस धर्मेश ने भवन निर्माताओं की संस्था आगरा सिटी रेडिको की संजय प्लेस, आगरा में हुई बैठक में कही।


अचल संपत्ति के मूल्य में गिरावट
मंत्री डॉ. जीएस धर्मेश के समक्ष यह बात रखी गयी कि देशव्यापी मंदी के कारण अचल सम्पत्तियों के मूल्यों में गिरावट आयी है। आगरा में विशेष रूप से यह गिरावट है, क्योंकि आगरा पर्यावरणीय दृष्टि से अति संवेदनशील है। केन्द्र सरकार के पर्यावरण मन्त्रालय द्वारा उद्योगों की स्थापना एवं विस्तार पर लगी तदर्थ रोक पिछले तीन साल से लगी हुई है। केन्द्र सरकार द्वारा लगायी गयी होटलों, अस्पतालों व बड़ी आवासीय योजनाओं पर लगी तदर्थ रोक को हटाने की मांग भी मंत्री डॉ. धर्मेश के समक्ष रखी गयी, जिसको राज्य सरकार व केन्द्र सरकार के समक्ष उठाने के लिये मंत्री ने आश्वस्त किया।


सर्किल रेट बढ़े तो आयकर का बोझ
बैठक में रेडिको अध्यक्ष के0सी0 जैन द्वारा यह बात भी रखी गयी कि सर्किल दरें बढ़ जाने से क्रेता व विक्रेता दोनों के ऊपर आयकर का बोझ पड़ जाता है, जिसके कारण प्रॉपर्टी का लेन-देन नहीं हो पाता है। यदि सरकार को राजस्व की जरूरत है तो मध्य प्रदेश राज्य की भांति उत्तर प्रदेश में भी सर्किल दरों को घटा देना चाहिये। मूल्यांकन पर 7 प्रतिशत से स्टाम्प दर बढ़ाकर 8 या 9 प्रतिशत की जा सकती है। इस प्रकार आयकर के प्रावधानों से बचा जा सकेगा।

पर्यटन के प्रोत्साहन के लिए सुझाव

1- विभिन्न ऐतिहासिक इमारतों व प्राकृतिक स्थलों के दर्शन हेतु आगरा दर्शन हेतु स्तरीय बस सेवा उपलब्ध हो जो निजी क्षेत्र द्वारा संचालित हो।

2- मेहताब बाग के निकट स्थित ताज व्यू पॉइन्ट में नियमित सांस्कृतिक कार्यक्रम निजी संस्थाओं द्वारा सम्पन्न होने की पारदर्शी व्यवस्था हो।

3- मेहताब बाग से ताज रात्रि दर्शन की सुविधा 1 अक्टूबर से शुरू हो जिसके लिये ए0एस0आई एवं आगरा विकास प्राधिकरण द्वारा व्यवस्थाएं बनायी जा चुकी हैं।

4- फतेहाबाद रोड स्थित पर्यटन क्षेत्र में विकास प्राधिकरण द्वारा रोड नेटवर्क बाह्य विकास शुल्क की मद से विकसित हो ताकि पर्यटन गतिविधियों का नियोजित ढंग से विकास हो सके।

ये रहे उपस्थित
बैठक में के0सी0 जैन (अध्यक्ष), सुशील गुप्ता (उपाध्यक्ष रेडिको), दीपेन्द्र शंकर अग्रवाल (सचिव रेडिको), प्रमोद चैहान (सी0ए0), सुमित गुप्ता विभव, इन्दर चन्द्र जैन, राकेश मंगल, हिमान्शु अग्रवाल, राजकुमार चाहर, तरुण अग्रवाल, राहुल जैन, हेमन्त जैन, छोटे लाल बंसल, तारा चन्द्र अग्रवाल, किशोर गुप्ता, अनिल अग्रवाल, अशोक मित्तल, सुशील अग्रवाल आदि सम्मिलित थे।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned