मुरादाबाद से राज बब्बर का टिकट फाइनल होते ही इस सीट पर बसपा और भाजपा की होगी टक्कर, जानिये क्या कहते हैं समीकरण

सपा और बसपा के साथ कांग्रेस का पैक्ट हुआ, तो इस सीट पर बसपा और भाजपा में सीधा मुकाबला होगा।

आगरा। मुरादाबाद से कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर का टिकट यदि लोकसभा चुनाव 2019 के लिए फाइनल होता है, तो फतेहपुर सीकरी पर भाजपा और बसपा दोनों ही दलों के प्रत्याशियों का गणित पूरी तरह बदल जाएगा। इस सीट पर माना जा रहा था कि कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर चुनाव लड़ने की तैयारी थी, लेकिन जैसे ही चर्चा शुरू हुई कि प्रदेश अध्यक्ष मुरादाबाद की ओर रुख कर सकते हैं और वहां चुनाव लड़ सकते हैं। तो यहां के पूरे समीकरण अब बदलने लगे हैं।

गठबंधन को नहीं कारण
सपा और बसपा के साथ कांग्रेस का पैक्ट हुआ, तो इस सीट पर बसपा और भाजपा में सीधा मुकाबला होगा। माना ये जा रह है कि सपा-बसपा तथा रालोद के साथ कांग्रेस का भी पैक्ट होना तय है। इन्हीं सम्भावनाओं के चलते राज बब्बर यहां से मुरादाबाद जा रहे हैं। यदि कांग्रेस का सपा-बसपा के साथ पैक्ट होता है तो फतेहपुरसीकरी सीट बसपा और कांग्रेस का तालमेल बिगाड़ती। पूर्व सांसद सीमा उपाध्याय यहां से बसपा प्रत्याशी हैं। उधर राज बब्बर कांग्रेस के सम्भावित प्रत्याशी थे। ऐसे में किसी एक दल को यह सीट छोड़नी पड़ेगी। इसलिए कांग्रेस ने पहले से ही निर्णय ले लिया है कि राज बब्बर को मुरादाबाद से चुनाव लड़ाया जाए।

भाजपा को मिलेगा फायदा
राज बब्बर के मुरादाबाद चले जाने की चर्चाओं के बीच भाजपाइयों के चेहरे पर खुशी दिख रही है। राज बब्बर इस सीट पर ज्यादातर बीजेपी के वोटर्स को प्रभावित करते और इससे बसपा प्रत्याशी मजबूत होता। यदि राज बब्बर फतेहपुसीकरी से चुनाव नहीं लड़ते हैं तो उसका फायदा भाजपा को मिलेगा। वहीं बसपाई भी इसे लाभ के रूप में देख रहे हैं। बसपाइयों का कहना है कि राज बब्बर ज्यादातर दलित और पिछड़ा वर्ग के वोटों को प्रभावित करते।

Show More
धीरेंद्र यादव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned