scriptताज एक्सप्रेस में आग का आंखों देखा हाल, आगरा के यात्रियों ने सुनाई आपबीती | Fire broke out in the bogies of Taj Express, | Patrika News
आगरा

ताज एक्सप्रेस में आग का आंखों देखा हाल, आगरा के यात्रियों ने सुनाई आपबीती

सबसे पहले एसी बोगी में चिंगारियां देखी गई। इससे पहले कि कुछ समझ आता चिंगारियों ने लपटों का रूप ले लिया।

आगराJun 03, 2024 / 08:14 pm

Shivmani Tyagi

Fire in train

ट्रेन की बोगियों में धधकती आग और उठती लपटें

दिल्ली से झांसी के लिए रवाना हुई ताज एक्सप्रेस की बोगियों में अचानक आग लग गई। इससे पहले की लपटों पर काबू पाया जाता आग तेजी से फैल गई। चलती ट्रेन में आग की लपटों से अफरा-तफरी मच गई। दमकलकर्मियों की टीम ने किसी तरह धधकती लपटों पर काबू पाया। गनीमत रही कि इस दुर्घटना में कोई हताहत नहीं हुआ।
यह दुर्घटना दिल्ली में ओखला के पास हुई। यह ट्रेन आगरा से होते झांसी जाती है। ट्रेन दिल्ली से रवाना हुई थी। इस ट्रेन में बड़ी संख्या में आगरा के लोग भी सफर कर रहे थे। जब आगरा में लोगों को इस बात का पता चला कि आगरा आने वाली ताज एक्सप्रेस की तीन बोगियों में आग लग गई है तो लोग परेशान हो गए। लोग फोन करके अपने-अपने लोगों की सलामती पूछने लगे। इसके बाद रेलवे की ओर से बताया गया कि आग की लपटों पर काबू पा लिया गया है और इस दुर्घटना मे कोई भी यात्री हताहत नहीं हुआ तो चिंता में पड़े लोगों ने राहत की सांस ली।
इसी ट्रेन में सफर कर रहे आगरा के रहने वाले इंद्रजीत कुमार ने बताया कि आग लगने से दो मिनट पहले तक सब सामान्य था। गर्मी बहुत थी और लेट हो जाने की वजह से भीड़ भी काफी थी। अभी ट्रेन चली ही थी कि अचानक तेज ब्रेक लगे, इसके बाद जैसे अफरा-तफरी सी मच गई। पता चला कि आग लग गई है तो लोग पैनिग होने लगे। रेलवे की टीम भी पहुंच गई। लोगों के बताया कि पैनिक ना हों सब काबू में है। इसी ट्रेन में सफर कर रहे रमेश यादव और पिंकी बने बताया कि जब आग लगी तो आनन-फानन में ट्रेन को रुकवाकर सबसे पहले यात्रियों को बाहर निकलवाया गया। जिन बोगियों में आग लगी थी उन्हे ट्रेन से काटकर अलग कर दिया गया। लोग काफी डर गए थे। गर्मी बहुत थी इससे माहौल और भयभीत करने वाला बन गया। लग रहा था कि जैसे आग जला देगी लेकिन गनीमत रही कि किसी के हताहत होने की खबर नहीं मिली। टुंडला के रहने वाले शौकत अलीग भी इसी ट्रेन में थे। फोन पर हुई वार्ता में उन्होंने अपने परिजनों के बताया कि सब ठीक है। एक बार तो लगा कि जान नहीं बचेगी लेकिन प्रबंधन ने समय रहते लपटों पर काबू पा लिया। आग कैसे लगी इसका पता नहीं चल सका है।भीषण गर्मी की वजह से लपटें कुछ ही मिनटों में आग तीन बोगियों तक फैल गई।

ट्रेन के बाकी हिस्से किए गए अलग

जैसे ही आग की खबर फैली तो रेलवे की राहत और टैक्नीशियन टीम ने सबसे पहले सुरक्षित बोगियों के अलग कर दिया। ट्रेन को तीन हिस्सों में काट दिया गया। इसके बाद यात्रियों के सुरक्षित बाहर निकाला गया। नई दिल्ली से झांसी के आगरा होकर जाने वाली ताज एक्सप्रेस ट्रेन संख्या 12280 सुबह के समय चलती हैं लेकिन सोमवार को यह ट्रेन कई घंटे देरी से रवाना हो सकी थी। ट्रेन नई दिल्ली से दोपहर करीब साढ़े तीन बजे रवाना हुई थी। दोपहर करीब चार बजे जब यह ट्रेन जब ओखला पहुंची ते यो दुर्घटना हुई। सबसे पहले एक एसी कोच में धुआं उठता हुआ देखा गया इसके बाद यह आग तेजी से फैली लेकिन समय से आग लगने की पता चल जाने की वजह से यात्रियों के बचा लिया गया।
आगरा से प्रमोद कुशवाह की रिपोर्ट

Hindi News/ Agra / ताज एक्सप्रेस में आग का आंखों देखा हाल, आगरा के यात्रियों ने सुनाई आपबीती

ट्रेंडिंग वीडियो