लॉकडाउन में दुकान बंद कराने आई पुलिस पर हमला दरोगा समेत पांच घायल

आगरा के थाना एत्माद्दौला के अरबी पुरम कॉलोनी की घटना, दोपहर के समय खुली हुई दुकान को बंद कराने गई थी पुलिस

By: shivmani tyagi

Updated: 19 Apr 2021, 11:03 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क

आगरा Agra लॉकडाउन को लेकर लोगों में गुस्सा है और अब वह अपना कारोबार किसी भी कीमत पर बंद करना नहीं चाहते। ऐसा ही एक मामला आगरा में सामने आया है। आगरा में लॉक डाउन के दौरान खुल रही दुकान को बंद कराने गई पुलिस agra police टीम पर हमला बोल दिया गया। इस हमले में एक दरोगा समेत पांच पुलिसकर्मी घायल हो गए। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। दर्ज एफआईआर के अनुसार हमलावरों ने पुलिस पर पथराव भी किया।

यह भी पढ़ें: कोरोना काल में रोगों से लड़ने में मिलेगी ताकत, सुबह नाश्ते में सेब साथ खाएं ये पीले रंग फल

घटना रविवार की है। दोपहर करीब 1:00 बजे कालिंदी विहार क्षेत्र की अरबी पुरम कॉलोनी में एक दुकान खुली हुई थी। पुलिस को सूचना मिली तो पुलिस प्रमोद कुमार उपाध्याय के घर पहुंची। यह दुकान प्रमोद कुमार उपाध्याय के घर में ही खुली हुई थी। फाउंड्री नगर चौकी प्रभारी विनीत राणा और दरोगा योगेश कुमार समेत अन्य पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे तो दुकानदार ने मास्क नहीं लगाया हुआ था। पुलिस के मुताबिक उन्होंने मास्क लगाने के लिए कहा और दुकान बंद करने के लिए कहा तो इस पर विरोध हो गया और दुकानदार पक्ष की ओर से पुलिस पर हमला बोल दिया गया। पहले पुलिसकर्मियों और दुकानदार के बीच हाथापाई हुई। इसकी सूचना पर मौके पर चौकी से फोर्स आ गया। यह देखकर दुकानदार पक्ष के लोग भी इकट्ठा हो गए और इकट्ठा हुई भीड़ ने पुलिसकर्मियों पर पथराव कर दिया। इस हमले में पांच पुलिसकर्मी घायल हो गए। बाद में पुलिस कर्मियों ने दबिश देकर 6 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने इस मामले में हमलावरों पर 12 अलग-अलग धाराओं में एफ आई आर दर्ज की है।

यह भी पढ़ें: पुलिस पर बाेला था हमला ताेड़ दी थी सीओ की गाड़ी, अब 200 पर हुई FIR

हमले के आरोपियों पर मारपीट करने, बलवा करने, सरकारी कार्य में बाधा डालने, पथराव करने और सेवन क्रिमिनल एक्ट समेत महामारी एक्ट में मुकदमा दर्ज किया है। अभी तक इस मामले में पुलिस ने प्रमोद कुमार उपाध्याय उनके बेटे पंकज और हरि गोपाल समेत उनकी पत्नी किरण देवी व बहू ज्योति और वर्षा को गिरफ्तार किया है। इन सभी को न्यायालय के समक्ष पेश किया गया जहां से इन्हें जेल भेज दिया गया। हमले में चौकी प्रभारी विनीत राणा, एसआई योगेश कुमार, समेत रोहित और नीतू शर्मा और प्रियंका यादव को चोट आई है।

यह भी पढ़ें: संक्रमण के खतरे काे देखते हुए हाईकोर्ट ने जारी की नई गाइड लाइन

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned