योगी सरकार के एक्शन से उड़ गए खनन माफियाओं के होश

योगी सरकार के एक्शन से उड़ गए खनन माफियाओं के होश
CM Yogi Adityanath

Dhirendra yadav | Updated: 14 Jun 2017, 09:41:00 AM (IST) Agra, Uttar Pradesh, India

खनन माफियाओं के ठिकाने पर बड़ी कार्रवाई।

आगरा। योगी सरकार ने खनन माफियाओं पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। पिनाहट ब्लॉक क्षेत्र से सटी चंबल नदी से भारी मात्रा में खनन माफियाओं द्वारा हो रहे बालू खनन को रोकने पर कई बार खनन माफियाओं ने वनकर्मियों पर हमले किए हैं, लेकिन सरकार की सख्ती के बाद पिनाहट क्षेत्र में बालू खनन रोकने के लिए अब वन विभाग के अधिकारियों ने डेरा डाल लिया है, जिससे खनन माफियाओं के होश उड़े हुए हैं। 

यहां होता है जमकर खनन 
ब्लॉक क्षेत्र में चंबल नदी से भारी मात्रा में बालू खनन खनन माफियाओं के ट्रैक्टरों और ऊंटों द्वारा किया जाता है। बालू खनन को रोकने के लिए वन विभाग के कर्मचारी हर संभव प्रयास कर रहे हैं, मगर खनन माफियाओं द्वारा उनके ऊपर हमले किए जा रहे हैं, जिसमें उनकी जान जाने तक का खतरा रहता है। बीते दिनों  मंसुखपुरा क्षेत्र में खनन कर रहे खनन माफियाओं की ट्रेक्टरों पर छापेमारी करने गई टीम के कर्मचारियों पर खनन माफियाओं ने अपना निशाना बनाकर उन्हें रौंदने तक का प्रयास किया था। जिसमें वह बाल बाल बच गए और कर्मचारियों ने भाग कर अपनी जान बचाई। 

सख्त एक्शन 
वनकर्मियों पर लगातार हो रही हमले और क्षेत्र में बढ़ रही खनन की गतिविधियों को देखकर वन विभाग के अधिकारियों ने संज्ञान लेते हुए क्षेत्र में वन विभाग वार्डन सुरेश चंद राजपूत एवं डिप्टी रेंजर सर्वेश भदौरिया, दारोगा विवेक सिंह की तैनाती टीम के साथ की गई है। वन विभाग के वार्डन ने अपनी टीम के साथ ब्लॉक क्षेत्र केक्यारी, पडुआपुरा, विप्रवाली, पलोखरा, करकरौली, तसोड, मंसुखपुरा, महगोली, बीचकापुरा, 
 देवगढ़, बरेन्डा आदि चंबल के घाटों से हो रहे अवैध बालू खनन के ठिकानों पर छापेमार कार्रवाई की, जिससें छापेमारी की सूचना पर खनन माफियाओं में हड़कंप मच गया और वह अपने ट्रैक्टरों और ऊंटो को लेकर भाग खड़े हुए। 

बड़ी कार्रवाई की तैयारी
खनन के ठिकानों को चिन्हित कर और बड़े खनन माफियाओं की लिस्ट बनाकर वन विभाग के उच्चाधिकारियों को लखनऊ के लिए भेजी जा रही है। जिससे उन पर कड़ा शिकंजा कसा जा सके। वार्डन द्वारा पूरी रणनीति टीम के साथ तैयार की गई है। दिन-रात टीम हथियारों से लैस होकर खनन के ठिकानों पर छापेमारी करेगी और खनन करने वाले खनन माफियाओं को पकड़ कर उन्हें जेल का रास्ता दिखाएगी। वार्डन सुरेश  राजपूत ने बताया कि इस क्षेत्र में खनन रोकने के लिए हर संभव प्रयास करेंगे और  खनन को रोकने के लिए रणनीति बनाई गई है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned