2000 के नोट से और बढ़ेगा कालाधन - पूर्व सचिव भारत सरकार 

ब्लैकमनी पर जो सर्जीकल स्ट्राइक की गई, वो निश्चित ही स्वागत योग्य है

By: धीरेंद्र यादव

Published: 09 Nov 2016, 07:52 PM IST

आगरा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा ब्लैकमनी पर जो सर्जीकल स्ट्राइक की गई, वो निश्चित ही स्वागत योग्य है, लेकिन इन सबके बीच जो 2000 का नोट छापने का निर्णय लिया गया, इससे तो काला धन फिर से बढ़ जाएगा। यह कहना है भारत सरकार के पूर्व सचिव डॉ. चन्द्रपाल का। उन्होंने कहा कि इस  नोट को छापने की कोई आवश्यकता नहीं थी। 


इस निर्णय से होगा बड़ा फायदा
भारत सरकार के पूर्व सचिव और आदर्श समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. चन्द्रपाल ने कहा कि पीएम मोदी के इस निर्णय से बड़ा फायदा होगा। 500 और 1000 के नोट जो धन्नासेठों के घरों में बंद थे, वे निकलर सामने आएंगे। इसके साथ ही यूपी चुनाव 2017 में भी इसका बड़ा असर दिखाई देगा। उन्होंने कहा कि अभी तक जो पार्टियां ब्लैक मनी के दम पर सत्ता में आ रही थीं, उनका सत्ता में आने का सपना टूट जाएगा। 


बीजेपी की रैलियों में भी हो रहा कालेधन का प्रयोग
डॉ. चन्द्रपाल ने कहा कि भाजपा की भी बड़ी बड़ी रैलियां होती हैं। इन रैलियों में लाखों लोग आते हैं, इन लोगों के अरेंजमेंट के लिए लाखों का खर्चा होता है, यह खर्चा कहां से आता है। इन सब पर भी प्रधानमंत्री को नियंत्रण करना होगा, तभी निष्पक्षता सिद्ध होगी। उन्होंने कहा कि यदि ईमानदारी के साथ यह योजना लागू हुई, तो साफ, स्वच्छ छवि के समाज सेवक चुनाव लड़ सकेंगे और प्रजातंत्र व देश की रक्षा हो सकेगी। 
                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                      
 

Narendra Modi
Show More
धीरेंद्र यादव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned