पटाखे हो गए फुस्स, व्यापारी बोले हो गए बर्बाद, देखें वीडियो

पटाखे हो गए फुस्स, व्यापारी बोले हो गए बर्बाद, देखें वीडियो
GST Effect on Firecrackers

Dhirendra yadav | Publish: Oct, 18 2017 03:34:23 PM (IST) Agra, Uttar Pradesh, India

मुनाफा कैसे कमाया जाए, 40 फीसद का व्यापार है।

आगरा। दिवाली पर धूम धड़ाका करने वाले पटाखे फुस्स हो गए हैं। मार्केट पूरी तरह गिरा हुआ है। दुकानों पर भीड़ नजर नहीं आ रही है। व्यापारियों का कहना है कि जीएसटी के कारण वे बर्बाद हो गए हैं। इतने महंगे पटाखे तो खरीद लिए, लेकिन अब खरीददार नहीं मिल रहे हैं।

 

ये कहना है थोक व्यापारी का
पटाखों के थोक विक्रेता भरत मित्तल ने बताया कि पिछले वर्षों की अपेक्षा इस बार दुकानें मेहंगी मिलीं हैं। इस बार 10 या 12 हजार में नहीं, बल्कि 30 से 35 हजार की दुकान मिली है, जिसके कारण व्यापारी परेशान है। उसे समझ नहीं आ रहा है, कि मुनाफा कैसे कमाया जाए। उन्होंने बताया कि 40 फीसद का व्यापार है।

 

चाइनीज को बोल रहे ना
थोक व्यापारी भरत मित्तल ने बताया कि लोग काफी जागरुक हुए हैं। चाइनीज पटाखों को ना बोल रहे हैं। उन्होंने बताया कि जीएसटी से काफी प्रभाव पड़ा है। पटाखा भी 20 फीसद महंगा हुआ है। जनता का भी रुझान जो है, उससे भी काफी प्रभाव पड़ा है। अब बॉम्ब नहीं मांगते हैं लोग, वहीं सीमत पटाखे ही लोगों द्वारा खरीदे जा रहे हैं।

ठेकेदार ने भी रुलाया
जीआईसी मैदान में फुटकर विक्रेता बॉबी जैन ने बताया कि 35 हजार रुपये दुकान का किराया है। पिछले वर्ष 20 दुकानें थीं, इस बार महज 11 दुकान मिली हैं। वहीं कोठी मीना बाजार के फुटकर विक्रेता अनूप ने बताया कि पहले तो दुकान महंगी मिलीं, इसके बाद जीएसटी के कारण पटाखों के रेट भी अधिक हैं। इससे पटाखा बाजार में भारी गिरावट है। इस बार लागत निकालपाना भी मुश्किल लग रहा है।

इस बार नहीं व्यापार
थोक व्यापारी भरत मित्तल ने बताया कि इस बार व्यापार बिलकुल भी नहीं है। हिन्दुओं के इस त्योहार पर ये मंदी, भावनाओं पर कुठाराघात है। सभी व्यापारी बहुत परेशान हैं। पिछले वर्षों में जहां तक दिवाली पर व्यापार मुस्कराता था, वहीं इस वर्ष व्यापार रुला रहा है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned