महिलाएं झिझक के चलते झेल रहीं तमाम बीमारियां, अपने डॉक्टर से खुलकर बात करें

-डॉ. प्रभा मल्होत्रा स्मृति शिविर में 500 महिलाओं का जांचा स्वास्थ्य
- एमजी रोड स्थित मल्होत्रा हाॅस्पिटल में आयोजित हुआ विशाल शिविर
- निःशुल्क परामर्श एवं जाचों के साथ ही निःशुल्क दवाएं भी प्रदान कीं

Amit Sharma

December, 0406:32 PM

आगरा। रेनबो हॉस्पिटल एवं मल्होत्रा नर्सिंग एंड मैटरनिटी होम द्वारा स्व. डॉ. प्रभा मल्होत्रा स्मृति निःशुल्क स्वास्थ्य जांच एवं परामर्श शिविर आयोजित किया गया। बुधवार सुबह 10 बजे शुरू हुआ शिविर शाम 4 बजे तक चला, जिसमें लगभग 500 महिलाओं ने संपूर्ण स्वास्थ्य लाभ प्राप्त किया। निःशुल्क और रियायती दरों पर जांचें करने के साथ ही दवाएं भी प्रदान की गईं।

यह भी पढ़ें- नवोदय प्रकरण: छात्रा के हत्याकांड में एसआईटी तेजी से साक्ष्य जुटाने में जुटी एसआईटी

स्व. डॉ. प्रभा मल्होत्रा की स्मृति में एमजी रोड स्थित मल्होत्रा हाॅस्पिटल में आयोजित इस शिविर में निसंतानता, गर्भावस्था एवं स्त्री रोग परामर्श के साथ ही महिलाओं के लिए हड्डियों की जांच, ब्रेस्ट स्कैन, अल्ट्रासाउंड, ब्लड प्रेशर, पुरुषों के लिए निःशुल्क सीमन जांच, महिलाओं के लिए थाॅयराइड की जांच 50 रुपये में और अन्य जांचों पर 50 प्रतिशथ तक की छूट दी गई। इसके अलावा दिव्यांगजनों को निःशुल्क परामर्श उपलब्ध कराया गया।

यह भी पढ़ें- खराब खड़े ट्रक में जा घुसी कार, इटावा के दो युवकों की मौत

रेनबो ग्रुप के चेयरमैन डा. आरएम मल्होत्रा ने शहरवासियों को समाजसेवा से जुड़े रहने और सामाजिक एकता का भाव न भूलने का संदेश दिया। हाॅस्पिटल के निदेशक डॉ. जयदीप मल्होत्रा और डॉ. नरेंद्र मल्होत्रा ने बताया कि अधिकांश महिलाओं में गर्भावस्था में सही देखभाल न मिल पाने, एनीमिया, तनाव की समस्या सामने आई। बहुत सी महिलाएं ऐसी भी थीं जो शर्म व झिझक के चलते तमाम रोगों के बारे में अपने घर-परिवार वालों को नहीं बताती हैं। इन महिलाओं को बीमारियों पर पर्दा न डालने की सलाह दी गई।
निःसंतानता कोई अभिशाप नहीं

यह भी पढ़ें- परफार्मेंस ग्रांट मामले में अब ग्राम पंचायत सचिव व एपीओ की तय होगी भूमिका

रेनबो आईवीएफ की डॉ. निहारिका मल्होत्रा ने बताया कि निःसंतानता कोई अभिशाप नहीं है। इसका संपूर्ण इलाज संभव है बशर्ते आपको सही जगह का चुनाव करना और इलाज की गाइड लाइन को फाॅलो करना आना चाहिए। डॉ. केशव मल्होत्रा ने बताया कि निसंतानता के इलाज की आधुनिक तकनीकें आज उपलब्ध हैं लेकिन लोगों में जागकरूकता की कमी है।

यह भी पढ़ें- भाई के दोस्तों ने किया छात्रा के साथ गैंगरेप, बेहोशी की हालत में मिली

शिविर में इन्होंने दीं सेवाएं
शिविर में स्मृति, लायंस क्लब प्रयास, महिला संघ, क्लब 35 प्लस, सत्यमेव जयते, रोटरी क्लब आॅफ ताज सिटी, इनर व्हील क्लब, लीडर्स आगरा के सहयोग से आयोजित किया गया था। डॉ. जयदीप मल्होत्रा, डॉ. नरेंद्र मल्होत्रा, डॉ. निहारिका मल्होत्रा, फिजीशियन डॉ. विश्वदीपक, डॉ. नीलम माहेश्वरी, डॉ. सरिता दीक्षित, डॉ. अनीता यादव, डॉ. शोभना, डायटीशियन मोनिका आदि ने अपनी सेवाएं प्रदान कीं। व्यवस्थाएं रेनबो हाॅस्पिटल के महाप्रबंधक राकेश आहूजा, अखिलेश दत्त चतुर्वेदी, सुनील जैन, केशवेंद्र सिसौदिया, जगमोहन गोयल, नवनीत उपाध्याय, आलोक जैन, आशीष खन्ना, दीप्ति, शिल्पा आदि ने संभालीं।

यह भी पढ़ें- फौजी की बेटी ने छेड़छाड़ से तंग आकर पिया जहर, हालत गंभीर

खाद बनाने पर हुई कार्यशाला, बांटे कंपोस्टर
शिविर के मध्य में ग्रीन हैंड्स संस्था द्वारा घर के कचरे से खाद्य बनाने पर एक कार्यशाला आयोजित की गई। संस्था कीं रेखा हसीजा, पायल डावर, मीना महाजन, कंचन मुलानी, रेनू गुप्ता, निशा मिततल, भारती हिन्दवानी, दीप्ति अरोरा, डा. मंजू बघेल ने मरीजों, उनके साथ आए तीमारदारों और स्टाॅफ को किचिन वेस्ट से खाद्य बनाना सिखाया। डॉ. जयदीप मल्होत्रा और डॉ. नरेंद्र मल्होत्रा ने सीखे हुए तरीकों को अपने घर में इस्तेमाल करते हुए पर्यावरण संरक्षण में योगदान की अपील की। उपस्थित लोगों को आधार कार्ड की प्रति देने के बाद नगर निगम द्वारा प्रदत्त कंपोस्टर फ्री बांटे गए।

Show More
अमित शर्मा
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned