Independence day राष्ट्रीय बजरंग दल ने निकाली तिरंगा यात्रा, कश्मीर को लेकर प्रधानमंत्री से की ये बड़ी मांग

Independence day राष्ट्रीय बजरंग दल ने निकाली तिरंगा यात्रा, कश्मीर को लेकर प्रधानमंत्री से की ये बड़ी मांग
tiranga yatra

Dhirendra yadav | Publish: Aug, 15 2019 03:00:40 PM (IST) Agra, Agra, Uttar Pradesh, India

Rashtriya bajrang dal के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोज कुमार ने कहा- Kashmir की शोभा कश्मीरी पंडितों से ही है।

आगरा। स्वतंत्रता दिवस पर राष्ट्रीय बजरंग दल ने तिरंगा यात्रा शान से निकाली। महात्मा गांधी मार्ग पर दीवानी चौराहा स्थित भारत माता की प्रतिमा का दुग्धाभिषेक किया। भारत माता की जय की गूंज हुई। इस मौके पर राष्ट्रीय बजरंग दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोज कुमार ने कहा कि 15 अगस्त का दिन आजादी का दिन है। आजादी अभी अधूरी है। सपना सच होना बाकी है। भारत का विभाजन एक त्रासदी था। इस विभाजन में हिन्दुओं के अधिकारों का खुलकर हनन हुआ। उसकी पीड़ा आज भी देखी जा सकती सिर्फ अपने राजनीतिक स्वार्थों की खातिर इस देश को बांट दिया गया और पाकिस्तान का निर्माण किया गया।

tiranga yatra

हिन्दू झुकेगा नहीं

मनोज कुमार ने आक्रोश भरे स्वर में कहा कि इतिहास के पन्ने उठाकर देखें तो पायेंगे कि भारत के साथ ईरान अलग हुआ, अफगानिस्तान, भूटान, तिब्बत, नेपाल आदि समय -समय पर विभाजन का शिकार बना। एक सोची समझी रणनीति के कारण कश्मीर को भी यहां से अलग किए जाने का प्रयास किया गया। गुलाम कश्मीर सबसे पहले लिया गया। अब हिन्दू परिपक्व हो चुका है। जन जागरण का सिद्धांत प्रतिपादित हो चुका है। किसी भी स्थिति में, किसी की ताकत के सामने हिन्दू झुकेगा नहीं। हिन्दू भारत को तोड़ने वाली शक्तियों को कुचलना जानता है। अखंड भारत की परिकल्पना आज भी जन जागरण में प्रवाहित हो रही है।

tiranga yatra

कश्मीरी पंडितों को उनके घर दिए जाएं

उन्होंने कहा कि कश्मीर और पीओके (पाक अधिकृत कश्मीर) हमसे छीन लिया गया। आज भारत की राजसत्ता पर संकल्प लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पीओके और चीन के अधीन भारत का जो कश्मीर का हिस्सा है, उसको कश्मीर में मिलाकर भारत को अखंड करने का पुनः संकल्प दिखाया है, हम उनका अभिनंदन और स्वागत करते हैं। प्रधानमंत्री से अनुरोध है कि चार लाख कश्मीरी पंडितों व सरदारों को भी कश्मीर में बसाया जाए। उनके पूर्वजों के घर उनको लौटाए जाएं। कश्मीर की आजादी कश्मीरी पंडितों से ही शोभित होगी और यह भारत के प्रधानमंत्री ही कर सकते हैं।

tiranga yatra

भारत को पुनः अखंड बनाएंगे

अखंड भारत संकल्प दिवस के दिन सैकड़ों युवाओं ने संकल्प लेकर कहा कि जो हिस्सा हमसे कटा है, उसको आने वाली पीढ़ी संघर्ष से, दृढ़ निश्चय से भारत में जोड़ने का काम करेगी। जिस प्रकार इजराइल के लोगों ने उदाहरण दिया। 1800 वर्ष तक इजराइल के लोग दुनिया भर में रहे पर अपने देश की स्वतंत्रता के लिए लड़ते रहे। आज इजराइल शक्तिशाली देश के रूप में दिखाई दे रहा है। इसी प्रकार भारत भी शक्तिशाली देश बनेगा और भारत माता विश्व गुरु के सिंहासन पर जरूर विराजमान होगी। इस संकल्प के साथ हमारे पूर्वजों ने बलिदान दिया था। वीर सावरकर, सुभाष चंद्र बोस, डॉक्टर हेडगेवार, श्यामा प्रसाद मुखर्जी व अनेक क्रांतिकारी चंद्रशेखर आजाद ,भगत सिंह राजगुरु, सुखदेव जैसे सपूतों ने भारत माता के लिए अपना सर्वोच्च न्यौछावर दिए। आज भारत तिरंगा से सुशोभित है। यह दिन भारत के स्वर्णिम दिन के रूप में अंकित हो रहा है आओ संकल्प लें कि हम पुनः भारत को अखंड बनाएंगे ।

ये रहे उपस्थित

कार्यक्रम में प्रांत उपाध्यक्ष धर्मेंद्र अवस्थी, प्रांत उपाध्यक्ष धर्मेंद्र राजपूत, प्रदेश अध्यक्ष छात्र राज सिकरवार, महानगर कार्यअध्यक्ष अवधेश पंडित, महानगर महामंत्री जेबी चौधरी, महानगर अध्यक्ष रामू कप्तान, गौसेवक सौरभ गुप्ता, कान्हा राठौर, महानगर संगठन मंत्री सनी, रविंद्र, खुशाल जैन, संदीप, एडवोकेट केके शर्मा, अनुराग, धर्मेंद्र, पार्थ, दीपक, विमल, योगेंद्र जादौन, रमन सिंह बजरंगी, सीटू परमार, संजय बघेल, सागर, नीलू, हिमांशु, रोहित, विपुल, विपिन आदि सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे।

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned