मेहनत और लगन से किसान की बेटी ने पाया मुकाम, गांव की लड़कियों के लिए प्रेरणा बनी प्रियंका

मेहनत और लगन से किसान की बेटी ने पाया मुकाम, गांव की लड़कियों के लिए प्रेरणा बनी प्रियंका

Amit Sharma | Updated: 02 Mar 2019, 04:13:57 PM (IST) Agra, Agra, Uttar Pradesh, India

इस बेटी की सफलता के बाद हर कोई कह रहा है कि वाकई बेटियां किसीसे कम नहीं।

आगरा। मेहनत और लगन से एक किसान की बेटी ने वो कर दिखाया जो हजारों-लाखों का सपना होता है। इस बेटी की सफलता के बाद हर कोई कह रहा है कि वाकई बेटियां किसीसे कम नहीं। गांव-घर में जश्न का माहौल है। हर कोई बेटी की तारीफ कर रहा है।

मेनहत और लगन से पाया मुकाम

एत्मादपुर किसान दिनेश धाकरे का नकी बेटी प्रियंका धाकरे ने गर्व से सिर ऊंचा कर दिया है। प्रियंका धकरे ने तीन-तीन प्रतियोगी परीक्षाओं में एक साथ सफलता हासिल की। प्रियंका के पिता दिनेश धाकरे एत्मादपुर के गांव ओमकारपुर में रहकर खेती करते हैं। प्रियंका खुद पैरों पर खड़े होकर कुछ करना चाहती थी। इसलिए सने एत्मादपुर में रहने वाले अपने चाचा के पास रह कर पढ़ाई पूरी की। इसके बाद प्रियंका ने लेखपाल की परीक्षा दी। इसी दौरान प्रियंका ने पुलिस भर्ती की भी तैयारी शुरू कर दी। वह रोज सुबह जागकर दौड़ लगाने जाती।

रुकी नहीं, थकी नहीं

मेहनत और लगन से की गई तैयारी के बाद प्रियंका ने सिपाही भर्ती की परीक्षा दी। प्रियंका ने इस परीक्षा में सफलता हासिल की, लेकिन यहीं रुकने वाली नहीं थी। इसके बाग प्रियंका ने दरोगा भर्ती परीक्षा में बैठने का मन बनाया। गुरुवार को जब रिजल्ट आया तो प्रियंका के परिवार वालों की खुशी का ठिकना नहीं रहा था। प्रियंका ने इस परीक्षा में भी सफलता पाई। प्रियंका आज अपने गांव में अन्य लड़कियों के लिए भी प्रेरणा बन गई।

 

 

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned