आईपीएस नवनीत सिकेरा की आगरावासियों से अपील

इस स्कूल का शिक्षक अब जेल में हैं, तो उन्होंने आगरावासियों से उसे कड़ी से कड़ी ​सजा दिलाने की अपील की है।

By:

Published: 30 Jul 2017, 05:46 PM IST

आगरा। थाना अछनेरा के गांव साधन गांव के श्रीमती बादामी देवी पब्लिक स्कूल के शिक्षक का एक वीडियो वायरल हुआ था। इसके बाद आईपीएस अधिकारी नवनीत सिकेरा ने कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की थी। इस स्कूल का शिक्षक अब जेल में हैं, तो उन्होंने आगरावासियों से उसे कड़ी से कड़ी ​सजा दिलाने की अपील की है।

ये था मामला
गौरतलब है कि विगत मई महीने में शिक्षक जवाहर सिंह ने आठवीं कक्षा की छात्रा को अपने कमरे में बुलाया और उसके साथ अश्‍लील हरकत की थी। इतना ही नहीं, शिक्षक ने अपने मोबाइल से इस पूरे सीन का वीडियो भी बनाया था। इस घटना के कुछ दिन बाद किसी ने मोबाइल से वीडियो वायरल कर दिए।

आईपीएस अधिकारी ने की अपील
इसके बाद आईपीएस अधिकारी नवनी​त सिकेरा ने अपनी फेसबुक पोस्ट पर लिखा कि आप सभी के योगदान से सारी जानकारी मिल गयी है, कल जिस घटना का जिक्र किया था उस घटना के बारे में पूरी सच्चाई सामने आ गयी है और इसे इत्तेफाक कहें या ऊपर वाले का निर्देश कल ही इस केस में चार्जशीट कोर्ट में दाखिल कर दी गयी है। मैंने सम्बंधित अधिकारियों से वार्ता करके पूरी जानकारी ली। उन्होंने बताया कि घटना मई महीने की है जिसमें 8 जुलाई को FIR दर्ज कराई गई थी। सुसंगत धाराओं में केस दर्ज हुआ है और आरोपी को जेल भेजा गया है वह अभी जेल में ही है अब चार्जशीट समय से दाखिल हो गयी है तो इस दानव को सजा मिलना तय है।
teacher jawahar singh
आरोपी शिक्षक जवाहर सिंह
वकीलों से अपील
मेरा अनुरोध है आगरा के बंधुओ से, वहां के वकील साहेवन लोगों से , वहां के जिम्मेदार पत्रकार बंधुओं से, वहां की जिम्मेदार NGO से कि पुलिस अधिकारी तो ट्रान्सफर हो जायेंगे आप से विनती है कि इस मुकदमे पर निगाह रखें। यह केस आगरा की POCSO अदालत में चलेगा इस केस में डिजिटल एविडेंस हैं, केस बहुत मजबूत है इस घृणित को हर हालत में सजा दिलवाने में योगदान करें। दूसरी बात, पॉक्सओ अधिनियम के अनुसार बच्चों के बारे में कोई भी जानकारी शेयर करना कानूनी अपराध है, मैं फिर से स्पष्ट कर दूं सिर्फ नाम ही नहीं कोई भी जानकारी शेयर नहीं की जा सकती, स्कूल का नाम, गांव का नाम ये सब बिल्कुल भी शेयर न करें। वो बच्ची मात्र 14 वर्ष की है उसको सही गलत का ज्ञान नहीं। उसकी कहीं से कहीं तक कोई गलती नहीं फिर उसको सजा क्यों हालांकि कुछ ज्ञानी लोगों ने कहा उस क्लिप को देखकर कि उस बच्ची की भी गलती थी, उनसे मेरा कहना है कि वह अपने मां को वह क्लिप दिखाकर उनसे भी पूछ लें कि गलती किसकी थी

जीरो टॉलरेंस
सिकेराने लिखा है, यहां यह बताता चलूं कि इस भेड़िये का नाम जवाहर सिंह है और इसकी भी एक बेटी है जिसकी उम्र उस पीड़ित बच्ची के ही बराबर है। जागरूक करिये समाज को और बताइये बच्चों के प्रति होने वाले अपराधों पर समाज का जीरो टॉलरेंस है। इन प्यारी बच्चियों के जीवन में कोई भी ऐसे दुर्घटना न होने दें, बच्चियां हैं उनको अपना बचपना जी लेने दो आपसे अनुरोध है कोई भी ऐसी घटना आपके संज्ञान में आये तत्काल 1090 अथवा 100 नंबर पर सूचित करें, उत्तर प्रदेश पुलिस की सहायता करें।
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned