scriptJagadguru Paramhans Acharya prevented from entering the Taj Mahal | जगद्गुरु परमहंस आचार्य को ताजमहल में प्रवेश करने से रोका, शिष्यों को भी धक्का देकर निकाला | Patrika News

जगद्गुरु परमहंस आचार्य को ताजमहल में प्रवेश करने से रोका, शिष्यों को भी धक्का देकर निकाला

अयोध्या से आगरा पहुंचे जगद्गुरु परमहंस आचार्य ने ताजमहल में प्रवेश नहीं देने का आरोप लगाया है। परमहंस का आरोप है कि भगवा कपड़े पहनने और धर्मदंंड के कारण उन्हें प्रवेश नहीं करने दिया गया। इतना ही नहींं उनके शिष्यों को पुुलिसकर्मियों ने धक्के मारकर बाहर निकालने का प्रयास किया।

आगरा

Published: April 27, 2022 10:35:59 am

जगद्गुरु परमहंस आचार्य को आगरा के ताजमहल में प्रवेश नहीं देने का मामला सामने आया है। अयोध्या से पहुंचे जगद्गुरु परमहंस आचार्य ने आरोप लगाया कि भगवा कपड़े पहनने और धर्मदंंड के कारण उन्हें अंदर प्रवेश नहीं करने दिया गया। इतना ही नहींं उनके शिष्यों को पुुलिसकर्मियों ने धक्के मारकर बाहर निकालने का प्रयास भी किया। अपने साथ हुए बर्ताव को लेकर परमहंस ने नाराजगी जताई है। साथ ही मामले की शिकायत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से करने की बात भी कही है। उन्होंने कहा कि यह एक प्रकार से भगवा का मजाक बनाया गया है।
jagadguru-paramhans-acharya-prevented-from-entering-the-taj-mahal.jpg
जगद्गुरु परमहंस आचार्य को ताजमहल में प्रवेश करने से रोका, शिष्यों को भी धक्का देकर निकाला।
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जगद्गुरु परमहंस आचार्य ने कहा है कि वह पहली बार ताजमहल गए थे, लेकिन वहां पर दुर्व्यवहार किया गया। उन्होंने बकाया ताज देखने के लिए टिकट खरीदा था, जिसके बाद भी उन्हें प्रवेश नहीं दिया गया। उनका आरोप है कि सुरक्षाकर्मियों ने कहा कि भगवा कपड़ और लोहे के धर्मदंड के कारण उन्हें अंदर जाने की अनुमति नहीं दी जा सकती है। परमहंस ने बताया कि ताजमहल परिसर में हमारे साथ हुए व्यवहार को देख मौके पर मौजूद लोग भी नाराज हो गए।
यह भी पढ़ें- अयोध्या के पुजारी राजू दास ने कहा- महाराष्ट्र में शिवसेना ने किया धर्मांतरण

शिष्य से मोबाइल छीनकर फोटो डिलीट करने का भी आरोप

घटना शाम साढ़े पांच बजे की बताई जा रही है। सुरक्षा कर्मियों ने परमहंस को ताज के प्रवेश द्वार तक जाने वाले गोल्फ कार्ट में बिठाया था। बताया जा रहा है कि परमहंस के साथ उनका सरकारी गनर भी था। टिकट खरीदने के बाद उसके पैसे लौटा दिए गए। आरोप है कि परमहंस के शिष्य ने फोटो खींचने का प्रयास किया तो मोबाइल छीनकर फोटो डिलीट कर दी।
यह भी पढ़ें- राम मंदिर की तरह ही होगा अयोध्या का अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा

धार्मिक वेशभूषा में जाने पर नहीं है प्रतिबंध

इस मामले में पुरातत्व विभाग के सुप्रिटेंडेंट आरके पटेल का कहना है कि उन्होंने टिकट चेक करने वालों से बात की है, लेकिन उन्हें कुछ नहीं पता। इस संबंध में सिक्योरिटी स्टाफ से भी बात की है। वह खुद साइट पर जाकर सीसीटीवी फुटेज चेक करेंगे। उन्होंने बताया कि सुरक्षाकर्मियों ने उनसे लोहे का डंडा वहीं रखने को कहा था, लेकिन वह तैयार नहीं हुए। उन्होंने बताया कि किसी भी धार्मिक वेशभूषा, टोपी या कुछ लिखे हुए अंगवस्त्र पहनकर ताजमहल जाने पर कोई प्रतिबंध नहीं है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में हैदराबाद में शुरू हुई BJP राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठकUdaipur Kanhaiya Lal Murder Case में बड़ा खुलासा: धमकियों के बीच कन्हैयालाल ने एक सप्ताह पहले ही लगवाया था CCTV, जानिए पुलिस को क्या मिला...Udaipur Kanhaiya Lal Murder Case : कोर्ट तक यूं सुरक्षित पहुंचे कन्हैया हत्याकांड के आरोपी लेकिन...ऋषभ पंत 146, रवींद्र जडेजा 104, टीम इंडिया का स्कोर 416, 15 साल बाद दोनों ने रच दिया बड़ा इतिहासMumbai: बीजेपी सांसद हेमा मालिनी ने मुंबई की सड़कों पर गड्ढों को देखकर जताई चिंता, किया पुराने दिनों को याद250 मिनट में पूरा हुआ काशी का सफर, कानपुर-वाराणसी सिक्स लेन का स्पीड ट्रायल सफलनूपुर शर्मा के खिलाफ कोलकाता पुलिस ने जारी किया लुकआउट नोटिस, समन के बाद भी नहीं हुई हाजिरMaharashtra Politics: देवेंद्र फडणवीस किसके कहने पर महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम बनने के लिए हुए तैयार, सामने आई बड़ी जानकारी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.