जिला पंचायत में मंडराने लगे नाराजगी के 'बादल'

विधायकों के लंबे चौड़े कार्यों पर लगी रोक, 29 करोड़ के बजट में गड्ढामुक्त और अधिकारियों का वेतन ही संभव, 500 प्रस्तावित कार्य में महज हो सकेंगे 120 कार्य

By:

Published: 09 Jun 2018, 11:51 AM IST

आगरा। सत्ता में योगी आदित्यनाथ आए तो जिला पंचायत का नक्शा ही बदल गया। तख्ता पलट हुआ और भाजपा को ये कुर्सी मिली। लेकिन, जिला पंचायत में अब जिला पंचायत में नाराजगी के बादल मंडराने लगे हैं। विधायकों की लंबी चौड़ी सूची के चलते जिला पंचायत में खलबली मची हुई है। सभी की नजरें जिला पंचायत के खजाने पर टिकी हैं। हालात ये हैं कि 29 करोड़ के बजट में सांसद और विधायकों के 500 से अधिक काम की फाइलें आ चुकी है। जिला पंचायत सदस्यों के कामों की सूची भी लंबी चौड़ी है। ऐसे में पंचायत अध्यक्ष और अधिकारियों के माथे पर चिंता की लकीरें उभरना शुरू हो गई है।

29 करोड़ रुपये का बजट हुआ था पास
बार्ड की बैठक में वित्तीय वर्ष 2018.19 के लिए 29 करोड़ रुपये का बजट पास हुआ था। जिसमें प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा चलाए जाने वाले गड्ढामुक्त सड़कों का अभियान भी शामिल है। इसके लिए करीब साढ़े नौ लाख रुपये की धनराशि को सुरक्षित रखा गया है। डेढ़ करोड़ रुपये वेतन और अन्य आकस्मिक कार्यों के लिए है। 29 करोड़ रुपये के बजट से लगभग 120 कार्य कराए जाने की तैयारी चल रही है, ऐसे में विधायकों की लंबी चौड़ी सूची आने से खलबली मची हुई है। कहीं विधायक नाराज ना हो जाएं।

इन विधायकों की आईं लंबी चौड़ी सूची
आगरा ग्रामीण से भाजपा विधायक हेमलता दिवाकर ने 150 कार्यों की लिस्ट जिला पंचायत को सौंपी है। फतेहपुरसीकरी से विधायक चौधरी उदयभान सिंह ने 150 कार्य की सूची, बाह विधायक रानी पक्षालिका सिंह के 50 कार्य, एत्मादपुर विधायक रामप्रताप सिंह के सौ के करीब कार्य की लिस्ट है। वहीं जिला पंचायत के 51 सदस्यों के कार्यों की लंबी चौड़ी लिस्ट है। सूत्रों के मुताबिक इन सदस्यों द्वारा करीब 500 से 600 कार्यों की लिस्ट है। इतनी लंबी चौड़ी सूची आने से जिला पंचायत में खजाने का टोटा होने का अनुमान है। ऐसे में जिला पंचायत अध्यक्ष की परीक्षा होनी है। जिपंअ प्रबल प्रताप का कहना है कि बजट 29 करोड़ का पास हुआ है। प्राथमिकता वाले कार्य कराए जाएंगे।

BJP
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned