Ration Card नहीं बना है तो परेशान ना हो, अब ऐसे बनेगा नया कार्ड

ग्रामीण राशनकार्ड की सुविधा सें वंचित रह गए उनके राशनकार्ड (Ration Card) के लिए आपूर्ति विभाग ग्राम विकास अधिकारी के सहयोग से गांवों में कैंप लगाकर बनाएंगे राशन कार्ड

By:

Updated: 15 Nov 2018, 04:46 PM IST

आगरा। नया राशनकार्ड (Ration Card) आॅनलाइन माध्यम से बनाने का जो सिलसिला शुरू हुआ। उसमें कई ग्रामीण राशनकार्ड की सुविधा सें वंचित रह गए। राशनकार्ड बनाने में पहले राशनडीलरों ने मनमानी की और बाद में साइबर कैफै वालों ने मनमाने रुपए वसूल किए। लेकिन, अब जिला प्रशासन द्वारा इन असुविधाओं को दूर करने का प्रयास किया जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में Ration card की सबसे अधिक परेशानी होती है। कार्ड न होने के चलते ग्रामीणों को राशन नहीं मिल पा रहा है। वहीं कोटेदार उनके हिस्से का राशन हजम कर रहे हैं। लेकिन,अब ऐसा नहीं हो सकेगा। जल्द ही पात्र ग्रामीणों के लिए उनके गांव में ही राशनकार्ड बनाने की सुविधा दी जाएगी।

 

4.20 लाख ग्रामीण देहात में
नए Ration Card के लिए कार्यालयों में चक्कर लगाने वाले ग्रामीणों के लिए खुशखबरी है। विभाग उनके ही गांवों में कैंप लगाकर राशन कार्ड बनवाएगा। इसके लिए आपूर्ति विभाग ग्राम विकास अधिकारी का सहयोग लेगा। बता दें कि जनपद में कुल 6.63 लाख राशनकार्ड धारक हैं। इसमें शहर क्षेत्र में करीब 2.43 लाख हैं तो ग्रामीण क्षेत्र में ये संख्या इससे दो गुना 4.20 लाख तक पहुंचती है। ग्रामीण क्षेत्रों में कार्ड बनवाने की सबसे अधिक परेशानी है। इस दिक्कत को दूर करने के लिए गांव में शिविर लगाए जाएंगे। जिसमें पात्र गृहस्थियों को प्रमाणपत्र एकत्रित किए जाएंगे।

 

Ration Card के लिए साइबर कैफे पर कटती है जेब
आगरा शहर की बात करें तो यहां साइबर कैफे पर राशनकार्ड का फॉर्म भरवाने के लिए कैफे संचालक मनमाने दाम वसूलते हैं। प्रति व्यक्ति दो सौ रुपये तक कैफे संचालक द्वारा वसूले जाते हैं, जिसके चलते लोगों को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ता है। लेकिन, अब आपूर्ति विभाग द्वारा ग्रामीण क्षेत्र में कैंप लगाकर पात्र गृहस्थियों के प्रमाणपत्र एकत्रित कर उनके राशनकार्ड बनाने जाएंगे।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned