लोकअदालत में निपटाए गए वाद, 20 हजार मामले चिन्ह्ति

जिला जज सरोज यादव ने किया लोकअदालत का शुभारंभ

By: धीरेंद्र यादव

Published: 10 Feb 2018, 04:29 PM IST

आगरा। दीवानी कचहरी में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। हजारों की तादाद में वादकारियों का सुबह से ही हुजूम उमड़ता देखा गया। इस बार 20 हजार केस चह्निति किए गए थे। लोक अदालत में आने वाले सबसे अधिक मामले टोरंट पॉवर के आए हैं। दीवानी में लगाई गई लोक अदालत का शुभारंभ जिला जज सरोज यादव किया। लोक अदालत में आने वाले वादकारियों की स्टॉलों पर जाकर उन्होंने खुद निरीक्षण किया कि वादकारियों की समस्याओं का समाधान हो रहा है या नहीं! उनके साथ में नोडल अधिकारी रीता सिंह, विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव आशीष कुमार चौरसिया, एडीजे भूपेंद्र राय, अश्वनी कुमार त्रिपाठी, कुशल पाल, अनमोल पाल, विवेक सिंघल, सुभाष चंद्र, सीजेएम कविता मिश्रा, एसीजेएम राकेश कुमार गौतम, अरविंद विकास, अधिवक्ता अनिल शाह आदि शामिल थे। टोरंट की स्टाल पर सबसे ज्यादा भीड़ लगी थी।

ये खबर भी पढ़ सकते हैं: जानिए, मौत के बाद जिंदा होने वाले ज्ञान सिंह के दावे का सच

ये खबर भी पढ़ सकते हैं: आतंकियों की दहशत से छोड़ा कश्मीर, अब भूख और बीमारी से जूझ रहा है ये परिवार

इन वादों का किया गया निस्तारण
जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव आशीष कुमार चौरसिया ने बताया कि राष्ट्रीय लोक अदालत में मोटर दुर्घटना प्रतिकर, पारिवारिक, राजस्व, स्टांप, पुलिस अधिनियम, नगर निगम, एडीए, रेलवे, टोरंट, बैंकों, मनोरंजन अधिनियम के मामलों के साथ ही गृहकर संबंधी वाद निपटाए जा रहे हैं। नोडल अधिकारी रीता सिंह का कहना है कि लोक अदालत में न किसी की जीत होती है न ही हार। वादकारियों के लंबित पड़े मामले सुलझाने के लिए लगने वाली लोक अदालत का निर्णय अंतिम निर्णय होता है।

ये खबर भी पढ़ सकते हैं: कॉलेज प्रशासन ने की बड़ी लापरवाही, छात्र अलीम को भुगतना पड़ा खामियाजा

ये खबर भी पढ़ सकते हैं: कलेक्ट्रेट में आर्थिक मदद लेने आया था, अर्थी पर गया बुर्जुग लीलाधर

Show More
धीरेंद्र यादव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned