मध्यप्रदेश चुनाव में मायावती के लिए लकी जोन साबित होगा फतेहपुरसीकरी

मध्यप्रदेश चुनाव में मायावती के लिए लकी जोन साबित होगा फतेहपुरसीकरी

Abhishek Saxena | Publish: Oct, 14 2018 12:03:22 PM (IST) | Updated: Oct, 14 2018 12:03:23 PM (IST) Agra, Uttar Pradesh, India

कई बार मिली है यहां माया के धुरंधरों को जीत, मोदी लहर में मिली थी मात

आगरा। लोकसभा चुनाव 2019 से पहले राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव हैं। इन चुनावों में मायावती की पार्टी अपने प्रत्याशियों को उतारने का ऐलान कर चुकी हैं। राजस्थान और मध्य प्रदेश की सीमा आगरा से सटी है। फतेहपुरीसीकरी की सीमा जहां राजस्थान को जोड़ती है वहीं बाह, पिनाहट का क्षेत्र मध्यप्रदेश को जोड़ता है। ये पूरा क्षेत्र लोकसभा सीट फतेहपुरसीकरी में आता है। बहुजन समाज पार्टी इस सीट पर 2009 में बड़ा चुनाव जीत चुकी है। वहीं फतेहपुर सीकरी में लगने वाली विधानसभाओं में भी बसपा के पिछले कई चुनावों में विधायक रह चुके हैं। ऐसे में मध्य प्रदेश और राजस्थान में मायावती के लिए फतेहपुरसीकरी लकी जोन होने का काम कर सकता है।

ये खबर भी पढ़ सकते हैं: 500 करोड़ के घोटाले में जांच के आदेश, उच्च अधिकारियों की कमेटी हुई गठित

 

agra

ये खबर भी पढ़ सकते हैं: शिवपाल यादव का फिरोजाबाद में बिग शो, गाड़ियों का काफिला देख, उड़े सपाइयों के होश

मोदी लहर में मिली मात लेकिन, 2009 में जीत
मायावती के लिए लोकसभा और विधानसभा चुनाव के नतीजे अच्छे नहीं रहे। मोदी लहर में करारी हार का सामना मायावती को करना पड़ा था। लेकिन, विधानसभा चुनाव 2012 में जब अखिलेश यादव की पूर्ण बहुमत वाली सरकार बनी थी उस समय आगरा मायावती के लिए लकी साबित हुआ था। मायावती के छह विधायक यहां से जीते थे। वहीं 2009 के लोकसभा चुनाव में भी मायावती की पार्टी से सांसद ने राजबब्बर को हराकर सनसनी फैला दी थी। पूर्व मंत्री रामवीर उपाध्याय की पत्नी सीमा उपाध्याय ने कांग्रेस पार्टी के राजबब्बर को हराया था। सीमा उपाध्याय को 2,09,466 वोट मिले थे, करीब 30.19 प्रतिशत थे। वहीं राजबब्बर को 1,99,530 मत प्राप्त हुए थे जो 28.75 प्रतिशत थे। भारतीय जनता पार्टी के राजा महेंद्र अरिदमन सिंह तीसरे स्थान पर थे, उन्हें 1,54,373 वोट मिले थे। भाजपा का वोट प्रतिशत 22.25 था। मोदी लहर में लोकसभा 2014 में भारतीय जनता पार्टी के चौधरी बाबूलाल को 4,26,589 वोट मिले थे, वहीं सीमा उपाध्याय 2,53,483 वोट लेकर दूसरे स्थान पर थीं।

 

agra

ये खबर भी पढ़ सकते हैं: मायावती के लिए कांटों भरी हैं ये सीटें, चुनावों में लगातार घटा ग्राफ, इन सीटों पर रहा ये हाल

फतेहपुरसीकरी की विधानसभा में चला था मायावती का हाथी
मायावती के लिए मध्य प्रदेश का चुनाव बहुत महत्वपूर्ण होगा। मध्य प्रदेश की सीमा से सटे आगरा में मायावती के विधायकों ने जमकर धमक दिखाई थी। विधानसभा चुनाव 2012 में खेरागढ़ से भगवान सिंह कुशवाहा, फतेहाबाद से छोटेलाल वर्मा, छावनी से गुटियारी लाल दुबेश, फतेहपुरसीकरी से ठाकुर सूरजपाल सिंह, एत्मादपुर से डॉ.धर्मपाल सिंह विधायक चुनकर विधानसभा पहुंचे थे।

shivraj
Ad Block is Banned