नालों से अतिक्रमण हटाने का सिलसिला शुरू, मेयर बोले शहर के 20 लाख लोगों का हित सर्वोपरि

नालों से अतिक्रमण हटाने का सिलसिला शुरू, मेयर बोले शहर के 20 लाख लोगों का हित सर्वोपरि
agra nala

arun rawat | Updated: 16 Jun 2019, 01:53:01 PM (IST) Agra, Agra, Uttar Pradesh, India

— मदीना तिराहे से महावीर नाले पर जो भी हुआ वो आज से 20-25 सालों में कभी नही हुआ था। नाले के किनारे अवैध रूप से दुकान बनाकर अपने करोबार को संचालित कर रहे लोगों ने कभी सोचा भी नही होगा कि नगर निगम इतनी बड़ी कार्यवाही को भी अंजाम दे सकता है।

आगरा। शनिवार को मदीना तिराहे से महावीर नाले पर जो भी हुआ वो आज से 20-25 सालों में कभी नही हुआ था। नाले के किनारे अवैध रूप से दुकान बनाकर अपने करोबार को संचालित कर रहे लोगों ने कभी सोचा भी नही होगा कि नगर निगम इतनी बड़ी कार्यवाही को भी अंजाम दे सकता है। क्योंकि अभी तक अवैध अतिक्रमण को हटाने के बारे के किसी ने नही सोचा और जिस अधिकारी ने इस ओर कदम बढ़ाए तो कार्यवाही ठंडे बस्ते में चली गयी लेकिन इस बार ऐसा नही हुआ।

अवैध अतिक्रमण को हटाए जाने को लेकर महापौर के दृढ़ निश्चय को लेकर नगर निगम ने पुलिस व प्रशासन के सहयोग से महावीर नाले के किनारे बने अतिक्रमण को ढहा दिया। शनिवार सुबह नगर निगम के सहायक नगर आयुक्त अनुपम शुक्ला अपने दलबल के साथ महावीर नाले पर पहुँचे। मुस्लिम आबादी वाले इस क्षेत्र में कार्यवाही को लेकर सिटी मजिस्ट्रेट, एसडीएम, पुलिस के आलाधिकारी और भारी संख्या में पुलिसबल तैनात था।

सहायक नगर आयुक्त ने सभी से दुकानों में से सामान हटाने की मुनादी कराने के थोड़ी देर बाद ही बिना समय गंवाए निगम की चार जेसीबी से तोड़फोड़ शुरु कर दी। मुस्लिम समाज में इस कार्यवाही को लेकर आक्रोश भी दिखाई दिया लेकिन पुलिस और प्रशासन के आगे किसी ने विरोध नहीं किया। कार्यवाही के बीच में एक नाबालिग ने एक पत्थर फेंक कर माहौल को गरमाने का प्रयास किया लेकिन पुलिस ने मुस्तेदी दिखाते हुए युवक को तुरंत हिरासत में ले लिया और थाने भेज दिया। नगर निगम ने नाले के दोनों ओर अवैध निर्माणों को ढहा दिया। इसी बीच लोगों ने निर्माण को न तोड़ने की गुजारिश की लेकिन विभाग ने सभी को एक समान बताते हुए कार्यवाही को अंजाम दे दिया।

बताते चलें कि महापौर नवीन जैन ने पिछले 1 महीने से शासन और प्रशासन स्तर से लगातार अधिकारियों से मीटिंग कर महावीर नाले के ऊपर अतिक्रमण हटाने की रूपरेखा तैयार कर रहे थे। पिछले दिनों आगरा में आए उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव नगर विकास के सामने भी महापौर नवीन जैन ने यह मुद्दा उठाया था। उनसे मिले निर्देश के बाद महापौर लगातार डीएम और जिला प्रशासन के अधिकारियों से बातचीत कर अतिक्रमण हटाने की तैयारी कर रहे थे जिसके बाद आज यह कार्यवाई की गयी।

महापौर नवीन जैन का कहना था कि 25 साल में पहली बार इस नाले से अतिक्रमण हटाया गया है। इस अतिक्रमण के कारण नाले की सफाई नही हो पाती थी जिससे बरसातों में बारिश का पानी रोशन मोहल्ला और आस-पास के कई कपड़ा मार्किट में जमा हो जाता था और व्यापारियों को हर साल करोड़ो रूपये का नुकसान हो रहा था। अतिक्रमण हटाने से जेसीबी मशीन से नाले की सफाई हो पाएगी।

सहायक नगर आयुक्त का कहना था कि नाले के पास अतिक्रमण वर्षो पुराना है। इस अतिक्रमण को हटाने के लिए पहले ही यहां के दुकानदारों को सूचित करा दिया गया था, मुनादी भी कराई थी लेकिन इसके बावजूद भी अतिक्रमणकारियों ने अतिक्रमण नही हटाया। इसलिए इस कार्यवाही को अंजाम दिया है। कार्यवाही के बाद महावीर नाले की सफाई हो सकेगी।

मौके पर मौजूद सिटी मजिस्ट्रेट प्रभांत कांत का कहना था कि इस नाले से अतिक्रमण हटाने के लिए पिछले एक वर्ष से प्रयास किया जा रहा था लेकिन आज सभी के सहयोग से इस नाले से अतिक्रमण हटाया गया है। इस नाले से अवैध अतिक्रमण हटाये जाने से क्षेत्र के व्यापारी काफी उत्साहित है।

इस बड़ी कार्यवाही के लिए महापौर को धन्यवाद ज्ञापित कर रहे हैं। उनका कहना था कि 8 महीने पहले महापौर ने दौरा कर व्यापारियों की समस्या के निदान के लिए जो वायदा किया वो पूरा किया है। इस नाले से अवैध अतिक्रमण हटाने से नाले की सफाई हो सकेगी और जलनिकासी में किसी तरह की दिक्कत नही आएगी। नाले की सफाई न होने से सिल्ट 20 फुट तक हो गयी है जिसके कारण बरसात में जलभराव होने से पानी बैक मारता था और व्यापारियों को करोड़ो का नुकसान हो जाता था।

 

agra nala
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned