वाहन की गलत असेम्बलिंग कराकर चलाना पड़ेगा भारी

शहर में मोडीफाइड वाहन चालकों की आएगी शामत

By:

Published: 10 Feb 2018, 12:33 PM IST

आगरा। शहर की सड़कों पर मॉडीफाइड वाहन दौड़ाने वालों की शामत आने वाली है। मंडलायुक्त के राममोहन राव की अध्यक्षता में मण्डल में कानून व्यवस्था स्थिति की विस्तृत समीक्षा की गई, जिसमें आयुक्त ने जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, पुलिस अधीक्षक द्वारा सप्ताह में दो बार पैदल गश्त किये जाने और कानून व्यवस्था को और सुदृढ़ करने के लिए निरोधात्मक कार्रवाई ठीक से किये जाने के निर्देश दिए गए। वहीं कमिश्नर ने कहा कि गलत ढंग से असेम्बिलिंग किए गए वाहनों और मॉडल परिवर्तित कर बनाए गए अनाधिकृत वाहनों का संचालन रोका जाए।

ये खबर भी पढ़ सकते हैं: एसीएम द्वितीय के पेशकार का वीडियो वायरल, वकील साहब ने क्या दिया!

ये खबर भी पढ़ सकते हैं: कलेक्ट्रेट में आर्थिक मदद लेने आया था, अर्थी पर गया बुर्जुग लीलाधर
सड़कों पर बेतरतीब तरीके से दौड़ाया जा रहा
शहर में दुपहिया वाहनों की असेंबलिंग करने के बाद उन्हें सड़कों पर बेतरतीब तरीके से दौड़ाया जा रहा है। कई बार शहर में ऐसे वाहनों से हादसे भी घटित हुए हैं। कमिश्नर के राममोहन राव ने निर्देश दिए हैं कि गलत ढंग से असेम्बलिंग किए गए वाहनों और माॅडल परिवर्तन कर बनाए गए अनाधिकृत वाहनों का संचालन पूरे मण्डल में ना होने पाए। इसे सम्भागीय परिवहन अधिकारी और अन्य परिवहन विभाग के अधिकारियों द्वारा सुनिश्चित किया जाए। वहीं बैठक में आयुक्त ने पुलिस महानिरीक्षक आगरा जोन राजा श्रीवास्तव के इस सुझाव पर की सभी स्तर के अधिकारियों द्वारा भी पैदल गश्त किया जाए। कहा कि अधिकारीगण पैदल गश्त के समय का फोटो ग्राफ्स भी उन्हें व्हाटसअप पर उपलब्ध कराएं। मण्डल में अतिक्रमण हटाए जाने के सम्बन्ध में हुई कार्रवाई की समीक्षा के दौरान आयुक्त ने सभी जिलाधिकारियों को कहा कि वे नगर आयुक्तों के साथ बैठक करके इस प्रकार अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई करें कि पुनः अतिक्रमण न होने पाए।

ये खबर भी पढ़ सकते हैं: पुलिस पर नहीं कोई दबाव, एससी/एसटी उत्पीड़न के मामले में गम्भीरता से करें विवेचना कठेरिया

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned