तो इसलिए नहीं आए मुलायम सिंह यादव

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा था – ‘नेताजी से उनकी सुबह भी बात हुई थी। उनसे कहा था कि सम्मेलन बड़ा है।

By: अमित शर्मा

Published: 05 Oct 2017, 06:02 PM IST

आगरा। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अधिवेशन में आखिरकार मुलायम सिंह यादव नहीं आए। शिवपाल सिंह के तो पहले ही न आने के कयास लगाए जा रहे थे। कहा तो यह जा रहा था कि मुलायम सिंह अधिवेशन में आएंगे। सुबह के समय अखिलेश यादव ने इस तरह का संकेत दिया था, लेकिन बात नहीं बन सकी। इससे माना जा रहा है कि समाजवादी पार्टी के कुनबे में सबकुछ सामान्य नहीं है। हां, सामान्य दिखाने का प्रयास जरूर किया जाता है।

नेताजी से सुबह बात हुई थी
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा था – ‘नेताजी से उनकी सुबह भी बात हुई थी। उनसे कहा था कि सम्मेलन बड़ा है। आपका आशीर्वाद नहीं होगा, तो पार्टी आगे नहीं बढ़ेगी। नेताजी ने हम सभी को फोन पर आशीर्वाद दिया है। किरणमय नंदा को भी उन्होंने आशीर्वाद दिया है।‘

ये बात नागवार गुजरी
माना जा रहा था कि जब अखिलेश यादव ने नेताजी से मुलाकात कर ली है, दो बार फोन पर भी बात हुई है तो कोई कारण नहीं है कि मुलायम सिंह यादव राष्ट्रीय अधिवेशन में न आएं। अनुमान लगाया जा रहा है कि मुलायम सिंह यादव के पहुंचने से पूर्व ही अखिलेश यादव को राष्ट्रीय अध्यक्ष चुन लिया गया। यही बात मुलायम सिंह को नागवार गुजरी। मुलायम ने सुबह शिवपाल सिंह यादव से लंबी बातचीत भी की थी। उनके आगरा आने के मद्देनजर हवाई जहाज भी लखनऊ भेज दिया गया था।

कुछ लोग मायूस भी
कुछ भी हो, समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं के दिल में आज भी मुलायम सिंह यादव हैं। आजम खान ने अपने भाषण में कई बार मुलायम सिंह यादव का नाम लिया। हो सकता है कि कुछ कार्यकर्ता मुलायम सिंह यादव की गैरहाजिरी के चलते दुखी हों। मुलायम सिंह यादव के नहीं आने से पार्टी वरिष्ठ लोगों में मायूसी दिखी, लेकिन नौजवान उत्साहित थे। नौजवानों और पार्टी के अन्य लोगों के उत्साह को बढ़ाते हुए अखिलेश यादव ने सपा को राष्ट्रीय पार्टी बनाने का संकल्प लिया।

Show More
अमित शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned