पीएम मोदी की रैली में चुनौतियां, काला दिवस मनाएगी ये पार्टी तो किसान लाएंगे आवारा जानवर

शिक्षामित्रों ने बनाई रणनीति, किसानों का गायों को मैदान में भरने का ऐलान तो हाईकोर्ट खंडपीठ के लिए अधिवक्ताओं ने भरी हुंकार

By:

Published: 07 Jan 2019, 11:59 AM IST

आगरा। नौ जनवरी को आगरा के कोठी मीना बाजार मैदान में पीएम नरेंद्र मोदी जनसभा को संबोधित करेंगे। इस रैली के लिए भाजपाई पूरी दमखम लगा रहे हैं। लाखों की भीड़ का दावा किया जा रहा है। लेकिन, पीएम मोदी की जनसभा से पहले भाजपाईयों के सामने कई चुनौतियां आ रही हैं। शिक्षामित्र अपने हक के लिए लड़ रहे हैं तो किसान अपनी फसल बचाने के लिए संघर्षरत है। किसानों के ऐलान से खलबली मची हुई है।

शिक्षामित्रों का ऐलान
शिक्षामित्रों ने मीटिंग कर मोदी की रैली के लिए रणनीति बनाई है। जिलाध्यक्ष वीरेंद्र छौंकर का कहना है कि अपने भविष्य को सुरक्षित करने और मोदीजी को उनका वादा याद दिलाने के लिए इससे अच्छा मौका नहीं मिल सकता है। इसलिए जिलाधिकारी से पीएम मोदी से मिलने की अनुमति ली जा रही है। शिक्षामित्रों का कहना है कि उनका भविष्य बर्बाद हो रहा है और सरकारें हाथ पर हाथ रखकर बैठी हैं।

किसान नेताओं को मनाने में जुटे भाजपाई
किसानों की फसलों को आवारा जानवर नुकसान पहुंचा रहे हैं। किसान नेता श्यामवीर सिंह चाहर ने ऐलान किया था कि मोदीजी देश के चौकीदार बन गए और किसान को खेत का चौकीदार बना दिया। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी की रैली में नौ जनवरी को कोठी मीना बाजार में जनपद का किसान आवारा गायों को लेकर रैली मैदान में जाएंगा।

रालोद ने किया काला दिवस मनाने का ऐलान
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आगरा में आएंगे तो रालोद उस दिन काला दिवस मनाएगी। रालोद के महानगर अध्यक्ष दुर्गेश शुक्ला का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनता से झूठे वादे किए। नौ जनवरी को रालोद कार्यकर्ता काली पट्टी बांधकर काला दिवस मनाएंगे।

BJP Congress
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned