आगरा में 2022 तक मेट्रो चलाने की तैयारी, पहली बार में शुरू होंगे छह स्टेशन

— आगरा में पूरे शहर के अंदर 2025 तक शुरू हो पाएगी मेट्रो ट्रेन, विज्ञापन कराना भी होगा महंगा।

By: arun rawat

Published: 20 Nov 2020, 12:46 PM IST

आगरा। ताजमहल की नगरी में अब सबकुछ ठीक ठाक रहा तो जल्द ही मेट्रो दौड़ती हुई नजर आएगी। आगरा में मेट्रो का काम शुरू हो गया है और माना जा रहा है कि 2022 तक छह मेट्रो स्टेशनों को शुरू कर दिया जाएगा जबकि पूरे शहर में वर्ष 2025 तक मेट्रो दौड़ने लगेगी।

मेट्रो स्टेशनों पर हो सकेगी शूटिंग
आगरा के मेट्रो स्टेशनों पर शूटिंग भी हो सकेगी। इसके लिए किराया भी निर्धारित कर दिया गया है। दो लाख रुपये प्रति घंटे कोच में शूटिंग का किराया तय किया गया है। मेट्रो स्टेशनों पर आठ माह में अधिकतम आठ घंटे और साल में 12 घंटे शूटिंग की जा सकेगी। उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने मेट्रो शुरू होने के बाद यात्रा किराए के अलावा अन्य मदों से कमाई के रास्ते तलाश किए हैं। यूपीएमआरसी के अधिकारी के मुताबिक प्रथम चरण में सिकंदरा से ताजमहल पूर्वी गेट तक 14 किमी के पहले कॉरीडोर में दिसंबर 2022 तक छह स्टेशन चालू हो जाएंगे। 2025 तक पूरे शहर में मेट्रो दौड़ने लगेगी। शहर भर में मेट्रो पर करीब 8300 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।

विज्ञापनों से कमाई का यह है अनुमान
मेट्रो अधिकारियों के मुताबिक यात्रियों के किराए से 480 करोड़ और विज्ञापन, फिल्म शूटिंग, टेलीकॉम केबल लाइसेंस, पार्किंग व अन्य मदों से करीब 70 करोड़ रुपये प्राप्त होने की उम्मीद है।


विज्ञापन व अन्य मदों में किराया की दर
- विज्ञापन पैनल, ट्रेन के अंदर व स्टेशन पर : 2000 रुपये प्रति वर्ग मीटर/प्रति माह (वृद्धि प्रतिशत हर साल की दर से)।
- कियोस्क का किराया : 614 रुपये प्रति वर्ग मीटर/प्रति माह (वृद्धि प्रतिशत हर साल की दर से)।
- पार्किंग शुल्क स्टेशन पर : छह घंटे से कम 20 रुपये, 12 घंटे से कम 30 रुपये, फिर वाहन और

arun rawat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned