क्वीन विक्टोरिया की बेशकीमती मूर्तियों का ऐसा हाल, देखें तस्वीर

क्वीन विक्टोरिया की बेशकीमती मूर्तियों का ऐसा हाल, देखें तस्वीर

Bhanu Pratap Singh | Publish: Nov, 10 2018 12:34:43 PM (IST) | Updated: Nov, 10 2018 12:34:44 PM (IST) Agra, Agra, Uttar Pradesh, India

ब्रज मंडल हेरिटेज कंजर्वेशन सोसाइटी ने कहा- इन्हें लंदन या ब्रिटिश हाईकमीशन कार्यालय में रखवाया जाए

आगरा। क्वीन विक्टोरिया की मिश्रित धातु से बनी बेशकीमती आदमकद मूर्तियों की भारी बेकदरी हो रही है। इन्हें कोई देखने वाला नहीं है। ब्रज मंडल हेरिटेज कंजर्वेशन सोसाइटी ने ब्रिटिश हाई कमिश्नर को पत्र लिख कर मांग की है कि इन मूर्तियों को लंदन या नई दिल्ली स्थित हाई कमीशन बिल्डिंग में ले जाएं।

यह भी पढ़ें

ताजमहल में नमाज से रोका तो मुस्लिमों ने ASI कार्यालय घेरने का ऐलान, देखें वीडियो

रानी विक्टोरिया

मूर्तियों का सफर

ब्रज खंडेलवाल ने बताया कि पहले ये मूर्तियां पूर्व में शाहजहाँ गार्डन में लगी थीं। इनकी जगह मोतीलाल नेहरू की मूर्ति लग गयी। शाहजहां गार्डन से हटाकर इन मूर्तियों को फायर ब्रिगेड कार्यालय के कबाड़खाने में भेज दिया गया। फिर कुछ समझदार लोग ताज नगर निगम संग्रहालय (म्युनिसिपल म्यूजियम) जौन्स पब्लिक लाइब्रेरी, पालीवाल पार्क में लगवाने के लिए लेकर आए। मूर्तियां स्थापित भी हो गयी थीं। कुछ लोगं ने इसका विरोध कर दिया। इसके बाद इन मूर्तियों को संग्रहालय से हटाकर बाहर पटक दिया गया। तब से यह तीन मूर्तियां मछली कबाड़े में पड़ी हुई हैं।

यह भी पढ़ें

जिला जेल में बंदीरक्षक ने वार्डन को पीटा, वर्दी फाड़ी

ब्रिटिश सरकार अपने यहां स्थापित करे

सोसाइटी के अध्यक्ष सुरेंद्र शर्मा और उपाध्यक्ष श्रवण कुमार सिंह ने कहा विरासत के प्रति संवेदनहीनता की शिकार इन मूर्तियों को न तो नगर निगम लेना चाहता है न जिला प्रशासन। इसलिए वक़्त का तकाज़ा है की ब्रिटिश सरकार इन मूर्तियों को अपने यहाँ स्थापित करे।

यह भी पढ़ें

उत्तराखंड के किसान बन गए यूपी के गन्ना किसान, जांच में हुआ खुलासा, पूरे जिले में 4800 मिले फर्जी गन्ना किसान

रानी विक्टोरिया

कौन थीं क्वीन विक्टोरिया

क्वीन विक्टोरिया (एलेक्जेंड्रिना विक्टोरिया) ब्रिटेन और आयरलैंड की महारानी थीं। उन्हें एम्प्रेस ऑफ इंडिया की उपाधि से भी नवाजा गया। उनका जन्म 24 मई 1819 को लंदन में हुआ था। 11 जनवरी,1901 को उनकी मृत्यु हुई। अंग्रेजों ने भारत पर शासन क्वीन विक्टोरिया के नाम पर किया था।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned