script राधा स्वामी सत्संग सभा ने सामने रखा पक्ष, कहा-हम स्वस्‍थ माहौल देते हैं, ग्रामीण भ्रम में न रहें | Radha Soami Satsang Sabha issued statement after protests by villagers in Agra | Patrika News

राधा स्वामी सत्संग सभा ने सामने रखा पक्ष, कहा-हम स्वस्‍थ माहौल देते हैं, ग्रामीण भ्रम में न रहें

locationआगराPublished: Dec 26, 2023 08:24:08 am

Submitted by:

Vishnu Bajpai

UP News: यूपी की ताजनगरी आगरा के दयालबाग स्थित राधा स्वामी सत्संग सभा ने ग्रामीणों के आरोपों का खंडन किया है। सत्संग सभा का दावा है कि कुछ असामाजिक तत्व ग्रामीणों को गुमराह कर रहे हैं।

radha_soami_satsang_sabha_agra.jpg
Radha Soami Satsang Sabha Update: उत्तर प्रदेश की ताजनगरी के दयालबाग क्षेत्र स्थित राधा स्वामी सत्संग सभा पर ग्रामीण कई साल से उनकी जमीनों पर कब्जे का आरोप लगा रहे हैं। इस मामले में कई बार लिखित शिकायतें भी दी चुकी हैं। ग्रामीणों का कहना है कि उनकी शिकायतों पर प्रशासनिक कार्रवाई नहीं हो रही है। हालांकि कुछ महीने पहले प्रशासन ने राधा स्वामी सत्संग सभा के अवैध कब्जे पर आगरा प्रशासन ने बुलडोजर चलवा दिया था। इस दौरान दोनों पक्षों में पथराव और मारपीट भी हो गई थी। मामला प्रदेश के सीएम तक पहुंचा था। लखनऊ से निर्देश मिलने के बाद प्रशासन बैकफुट पर आ गया। बहरहाल, इसका केस हाईकोर्ट में विचाराधीन है।
हाल में फिर एक बार राधा स्वामी सत्संग सभा के खिलाफ ग्रामीणों ने मोर्चा खोल दिया। इस बार चार गांवों के ग्रामीणों ने किसान नेता भूरी सिंह के नेतृत्व में अपने घरों के बाहर 'मकान बिकाऊ है' के पोस्टर लगा दिए। ग्रामीणों का कहना था कि राधा स्वामी सत्संग सभा के पदाधिकारी लगातार उनकी जमीनों पर जमीनों पर कब्जा कर रहे हैं। ऐसे में यहां उनके लिए रहना मुश्किल हो रहा है।
यह भी पढ़ें

बारिश से और बढ़ेगी ठंड, कई सालों का टूटेगा रिकॉर्ड, IMD का डबल अलर्ट


ग्रामीणों ने सत्संग सभा के पदाधिकारियों पर उनके घर की महिलाओं से बदसुलूकी का आरोप भी लगाया था। यह मामला बहुत तेजी से गरमाया था। इसी बीच राधा स्वामी सत्संग सभा की ओर से ग्रामीणों के आरोपों का खंडन किया गया है।

राधा स्वामी सत्संग सभा को बदनाम करने के लिए लगाए गए पोस्टर


राधा स्वामी सत्संग दयालबाग के मीडिया प्रभारी सुरेंद्र नैय्यर ने उन कथित आरोपों का खंडन किया है। जिसमें कथित तौर पर जमीन कब्जाने का आरोप है। सत्संग सभा के मीडिया प्रभारी ने कहा कि उनकी ओर से किसी भी प्रकार का अतिक्रमण नहीं किया है। न ही किसानों की जमीनों पर कब्जा किया गया है। ग्रामीणों के सभी आरोप झूठे और बेबुनियाद हैं। सत्संग सभा ने दावा किया कि कुछ असामाजिक और आपराधिक तत्व के लोग ग्रामीणों को गुमराह कर रहे हैं। प्रशासन को इस ओर ध्यान देने की जरुरत है।
यह भी पढ़ें

दिल्ली में दुकान चला रहा था यूपी का खूंखार डकैत, एक गलती से 37 साल बाद पकड़ा गया


सत्संग की ओर से कहा गया है कि दयालबाग़ क्षेत्र के यमुना किनारे बसे सिकन्दरपुर, लालगढ़ी, नगला तल्फी, खासपुर, मनोहरपुर, जगनपुर मुस्तकिल आदि गांव निवासी कुछ तथाकथित ग्रामीणों ने घरों के बाहर पोस्टर लगा रखें हैं कि 'ये मकान बिकाऊ है।' कुछ लोग आपराधिक तत्वों के नेतृत्व में राधा स्वामी सत्संग सभा को बदनाम करने के लिए अनर्गल, भ्रामक और प्रचार कर रहे हैं। ज्ञात रहे कि ऐसे तत्व गंभीर धाराओं में मुजरिम है व पैरोल पर है। ऐसे तत्वों पर प्रशासन को गंभीर कार्रवाई करनी चाहिए।

ट्रेंडिंग वीडियो