यमुना बचाने के लिए भगवान शिव की शरण में पहुंचे भक्त, कृष्ण जन्माष्टमी पर लिया ये संकल्प, देखें वीडियो

यमुना बचाने के लिए भगवान शिव की शरण में पहुंचे भक्त, कृष्ण जन्माष्टमी पर लिया ये संकल्प, देखें वीडियो

Dhirendra yadav | Publish: Sep, 04 2018 01:18:18 PM (IST) Agra, Uttar Pradesh, India

कृष्ण जन्माष्टमी पर लिया गया यमुना बचाओ का संकल्प, प्रत्येक सोमवार को होगी आरती।

आगरा। भगवान श्री कृष्ण ने यमुना में अनेक लीलायें की, आज वही यमुना अपना अस्तित्व खोने की ओर है। ऐसे में आगरा के लोग यमुना बचाने के लिए भगवान शिव की शरण में पहुंच गये हैं। यमुना किनारे स्थित भगवान शिव के प्रमुख कैलाश मंदिर से हर सोमवार को यमुना बचाने के लिए आरती का आयोजन किया जायेगा। श्री कृष्ण जन्माष्टमी से यमुना आरती की शुरुआत हो चुकी है।

कृष्ण जन्माष्टमी पर किया गया दीपदान
श्री कृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर यमुना में दीपदान किया गया, साथ ही यमुना मैया की आरती की गई। श्री कृष्ण की भक्ती में भाव विभोर होकर भक्त नाचते रहे, देर रात तक भजन संध्या चलती रही। यमुना आरती व भजन संध्या का संयोजन कैलाश मंदिर के महंत गौरव गिरी ने किया। इस अवसर पर श्री बांके बिहारी वेलफेयर सोसायटी के संस्थापक मदन मोहन शर्मा, सीपी शर्मा, अलका सिंह, पदम सिंह, अमन सारस्वत, नकुल सारस्वत एवं विशिष्ट अतिथि उपस्थित रहे।

ये भी पढ़ें - कान्हा के जन्म के बाद गोकुल में नंदोत्सव हुआ शुरू, कृष्ण भक्ति में डूबे श्रद्धालु

सोमवार को होगी यमुना आरती
महंत गौरव गिरि ने बताया कि यमुना आरता पूजा अर्चना प्रत्येक सोमवार को शाम को सम्पन्न होगी एवं यमुना सुद्धिकरण के लिये जनजागरण अभियान को चलाया जायेगा। रीना सिंह एवं अलका सिंह ने कहा कि हमें पाश्चात्य संस्कृति के विरुद्ध सनातनी परम्परा को आगे बढ़ाना चाहिए एवं हिन्दुत्व की रक्षा एवं गौमाता की रक्षा के लिये एकजुट होकर संकल्पित होना होगा। कार्यक्रम संयोजक सीपी शर्मा एवं मदन मोहन शर्मा ने कहा कि आगामी समय में यमुना आरती को भव्यता प्रदान की जायेगी व कृष्ण की नगरी परली पार से झांकियों के साथ आयोजित किया जायेगा।

अतिथियों का हुआ सम्मान
इस अवसर पर सभी अतिथियों का सम्मान मठ महंत ने किया, जिसमें सुषमा सारस्वत, रंजना शर्मा, विदुषी सिंह, सरिता मोहन शर्मा, ममता पचौरी, कुमुद पांडे, अरविन्द मोहन शर्मा, अनुज सिंह आदि रहीं।

 

Ad Block is Banned