लोकसभा चुनाव 2019 से पहले रालोद ने बिछाई बड़ी बिसात, भाजपा की बढ़ाएगी मुश्किलें

प्रदेश प्रवक्ता ने गिनाई सरकार की विफलताएं, किसानों को हक दिलाने की मांग, महानगर में किया गया संगठन का विस्तार

By:

Published: 30 Dec 2018, 01:06 PM IST

आगरा। भारतीय जनता पार्टी के लिए 2019 का लोकसभा चुनाव कठिनाइयों भरा होने वाला है। यूपी में सपा बसपा कांग्रेस और रालोद का गठबंधन होता है तो भाजपा के लिए शहर और देहात में सीटें जीतना चुनौतीभरा होगा। वहीं रालोद ने महानगर में संगठन का विस्तार कर इन चुनौतियों को और बढ़ा दिया है। राष्ट्रीय लोकदल ने रविवार को महानगर में संगठन विस्तार किया और यहां महानगर अध्यक्ष का पद घोषित किया।

प्रदेश प्रवक्ता ने किया सरकार पर हमला
प्रदेश प्रवक्ता कप्तान सिंह चाहर ने पत्रिका टीम के साथ बातचीत करते हुए यूपी सरकार पर बड़े हमले किए। उन्होंने प्रदेश सरकार को किसान विरोधी सरकार बताते हुए कहा कि यूपी सरकार में किसानों की हालत पर सरकार को कोई सरोकार नहीं है। रालोद ने लगातार किसानों के हितों की बात की है। आलू किसानों की हालत पर उन्होंने कहा कि यूपी सरकार ने आलू के समर्थन मूल्य की घोषणा कर दी लेकिन, किसानों को अभी तक मूल्य नहीं मिला। रालोद जल्द ही आलू किसानों को उचित समर्थन मूल्य दिलाने के लिए बड़ा प्रयास करेगी। किसानों के हितों के लिए पिछली बार रालोद उपाध्यक्ष जयंत चौधरी ने खंदौली में बड़ी जनसभा की थी और बिजली के मुद्दे पर सरकार को घेरा था। अब आलू किसानों के लिए भी रालोद जल्द आवाज उठाएगी।

महानगर अध्यक्ष घोषित
रालोद लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा की राह मुश्किलों से भर रही है। रविवार को रालोद ने महानगर अध्यक्ष पद पर दुर्गेश शुक्ला को महानगर अध्यक्ष बनाया है। महानगर अध्यक्ष ने कहा कि वे महानगर के सभी सौ वार्डों में संगठन का विस्तार करेंगे। बूथ स्तर से पार्टी को मजबूत करने का प्रयास करेंगे ताकि लोकसभा चुनाव 2019 में रालोद बड़ा प्रदर्शन कर सके।

BJP
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned