RSS ने कहा- राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से भारत की सांस्कृतिक एकता को बल

अयोध्या में श्रीराम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ सक्रिय है।

आगरा। अयोध्या में श्रीराम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ सक्रिय है। जयपुर हाउस स्थित संघ के बृज प्रांत कार्यालय माधव भवन पर एक सद्भावना बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में उपस्थित नगर की विभिन्न सामाजिक व धार्मिक संस्थाओं ने प्रतिनिधियों ने एक स्वर में शहर में सामाजिक सद्भाव व आपसी भाई-चारे को बनाए रखने पर जोर दिया।

यह भी पढ़ें

AAj ka Rashifal: 11 नवम्बर, आज सिद्धि योग में भोलेनाथ की कृपा से से इन तीन राशि वालों को होगा लाभ

mahant_yogesh_puri.jpg

शांति व सौहार्द्र के साथ रहेंगे

बैठक में उपस्थित विभिन्न संस्थाओं के प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रांत विशेष संपर्क प्रमुख अशोक कुलश्रेष्ठ ने कहा कि राम मंदिर को लेकर सुप्रीम कोर्ट का जो निर्णय आया है, उससे भारत की सांस्कृतिक एकता को बल मिला है। बैठक की अध्यक्षता कर रहे महंत योगेश पुरी ने कहा कि शहर का इतिहास रहा है कि यहां सभी एक दूसरे से समन्वय बनाकर शांति से रहते आए हैं और आगे भी सभी लोग शांति व सौहार्द्र से रहकर शहर के विकास को अपनी प्राथमिकता बनाएंगे। समाजसेवी शौकी कपूर ने कहा कि सभी आपस में भाईचारा बनाए रखें। संचालन डॉ. अमी आधार निडर ने किया।

यह भी पढ़ें

जुलूस ए मोहम्मदी में शान से लहराया तिरंगा- देखें वीडियो

mahant_yogesh_puri2.jpg

सहयोग और संवाद पर जोर

बैठक में उपस्थित सभी संस्थाओं ने प्रतिनिधियों ने एक स्वर में समाज के विविध वर्गो में आपसी समन्वय के माध्यम से शांति स्थापना में सहयोग व संवाद बढ़ाने पर जोर दिया। बैठक में महंत अजय राजौरिया, पं. हरिकिशोर शास्त्री, शांति दूत बंटी ग्रोवर, आर्य समाज से रमाकांत सारस्वत, अरविंद मिश्रा, कमलदीप सिंह, हेमंत भोजवानी, प्रजापिता ब्रह्माकुमारीज ईश्वरीय विश्वविद्यालय से ममता कुमारी, मुनेंद्र जादौन, हेमंत प्रजापति, अशोक पिप्पल, केके भारद्वाज, विभाग प्रचार प्रमुख मनमोहन निरंकारी आदि उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें

मीट एट आगरा ने रखी पांच हजार करोड़ रुपए के व्यापार की नींव

rss_meeting.jpgrss.jpg
Show More
Bhanu Pratap
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned