सड़कों पर ऑटो चालकों का राज, प्रशासन इससे है बेखबर

ऑटो चालकों की मनमानी से परेशान, चौराहों पर लगाते हैं जाम, बिना दस्तावेज के ढो रहे सवारी

By: Lalit Saxena

Published: 24 Jul 2018, 08:03 AM IST

शुजालपुर. नगर में तीन-चार माह से नगर सेवा के रूप में संचालित ऑटो की संख्या में इजाफा हो गया है। सिटी मंडी मार्ग पर चलने वाले वाहनों में ऑटो की संख्या अधिक ही नजर आती है। साथ ही कुछ संचालकों की हरकतों से आमजन परेशान हैं। यातायात व पुलिस का नियंत्रण नहीं होने से उक्त संचालक चौराहों पर मनमानी करते हैं। उनकी जहां इच्छा होती है वाहन वहीं खड़ा कर देते हैं। कुछ चौराहों पर तो जाम की स्थिति निर्मित होती है। विशेष रूप से टेम्पो चौराहा जहां पर प्रशासन ने व्यवस्था करने के कई जतन किए लेकिन कुछ ऑटोवाले व्यवस्था को बार-बार बिगाड़ देते हैं।
चौराहे से रेलवे स्टेशन की ओर जाने वाला मार्ग वैसे ही कम चौड़ाई का है। उस पर ट्रेन के आने पर मार्ग को अवरुद्ध कर कतार से चार से पांच ऑटो खड़े हो जाते हैं। इस कारण पैदल यात्रियों का भी निकलना मुश्किल होता है। यदि कोई चालकों को टोकता है तो विवाद करना शुरू कर देते हैं। इसी तरह की स्थिति चौराहे पर मौजूद दुकानदारों के साथ भी होती है। स्टेशन की ओर पर्याप्त जगह होने के बाद भी मार्ग के बीच में ही ऑटो खड़े किए जाते हैं। इसी तरह की स्थिति मंडी बस स्टैंड पर भी देखने को मिलती है। यहां पर भी बस आने पर दो कतार ऑटो की लगा दी जाती है, जिसके कारण हाइवे पर आवागमन प्रभावित होता है। व्यवसायी सीमित जैन ने कहा कि प्रशासन व अधिकारियों से कई बार कहने के बाद भी व्यवस्था नहीं बनाई जा रही है। स्टेशन चौराहा शहर का सबसे व्यस्त चौराहा है, जिसकी सुध अमला नहीं लेता है।
समझाने पर भी नहीं हुए पाबंद
जनवरी में पुलिस ने ऑटो संचालकों की बैठक लेकर यातायात व्यवस्था में सुधार के उद्देश्य से समझाइश दी थी। इसमें टेम्पो चौराहे पर मार्ग अवरुद्ध कर नहीं खड़े होने, एकांकी मार्ग का उपयोग करने के अलावा संचालन के दौरान दस्तावेज साथ रखने, यूनिफार्म जैसे निर्देश दिए थे, लेकिन किसी भी निर्देश का पालन नहीं हो रहा। बिना परमिट व लाइसेंस के ठेके पर ऑटो सड़कों पर दौड़ रहे हैं। ऐसे में यदि कोई हादसा हो जाए तो यात्रियों की परेशान खड़ी हो सकती है। सिटी क्षेत्र में भी माँ काली माता मंदिर चौराहा व अस्पताल के सामने मुख्य मार्ग पर ऑटो खड़े किए जा रहे हैं। नगर में कुछ संचालक ऐसे भी हैं जो इमानदारी से नगर सेवा का संचालन कर रहे हैं लेकिन कुछ शरारती तत्वों के कारण परेशानी निर्मित हो रही है।
स्टेशन चौराहे पर ऑटो सही तरीके से खड़े करने और स्टेशन मार्ग के प्रवेश द्वार पर ऑटो नहीं लगाने की हिदायत कई बार दी। कार्य की व्यस्तता के कारण दस्तावेज परखने की मुहिम शुरू नहीं हो सकी। जल्द ही कार्रवाई की जाएगी।
महेंद्र चौहान, यातायात प्रभारी शुजालपुर

Lalit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned