आंखों के सामने मौत ने छीन लिए आंख के तारे, परिवार पर टूटा दुखों का पहाड़

दो सगे भाइयों की मौत से गांव में पसरा मातम, एक साथ हुआ अंतिम संस्कार, राजस्थान में मजदूरी करने गया था परिवार, अचानक हुई दोनों की तबियत खराब और हो गई मौत

By:

Updated: 24 Jul 2018, 12:39 PM IST

आगरा। फतेहपुरसीकरी थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम जाजोली से मजदूरी करने जयपुर गए ग्रामीण के दो पुत्रों की खाना खाने के बाद अचानक मौत हो जाने से परिवार में कोहराम मचा हुआ है। गांव में जब दोनों भाइयों के शव पहुंचे तो परिवार में कोहराम मच गया। दोनों भाइयों का एक साथ अंतिम संस्कार किया गया तो गांव में हर किसी की आंखें नम हो गई।

ये खबर भी पढ़ सकते हैं: भाजपा पार्षद ने खोला अपनी ही सरकार के खिलाफ मोर्चा, उड़ गए सभी के होश

गरीब परिवार मजदूरी करने गया था
ग्राम प्रधान जाजौली दरब सिंह व समाज सेवी हरी सिंह कुशवाहा ने बताया कि गांव का जवाहर सिंह गरीब है। जयपुर मजदूरी करने गया था। वह कई सालों से वहीं पर अपनी पत्नी और बच्चों के साथ रहकर अपने परिवार का पालन पोषण कर रहा था। शनिवार की रात्रि में उसके पुत्र लवकुश कुशवाहा उम्र 14 वर्ष और प्रवीण कुशवाहा उम्र 12 वर्ष ने रोजाना की तरह खाना खाया। दोनों भाई खाना खाने के बाद सो गए। रात्रि करीब 11 बजे करीब लवकुश की तबीयत अचानक खराब हुई। उसने उल्टी की तो पिता उसे नजदीकी हॉस्पिटल में ले गए। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुत्र का शव लेकर घर पहुंचा तो दो घंटे बाद ही प्रवीण की तबीयत खराब हुई। पुत्र की शव को रखा छोड़ पिता उसे भी हॉस्पिटल ले गया। हॉस्पिटल में इलाज शुरू होते ही उसने भी दम तोड़ दिया।

दोनों किशोरी की मौत सवाल छोड़ गई
परिवार में दोनों भाईयों की मौत से कोहराम मच गया। पोस्टमार्टम के बाद दोनों सगे भाइयों का शव गांव में पहुंचा तो गांव में हाहाकार मच गया। अंतिम संस्कार के समय दोनों भाइयों की एक साथ चिता जलते हुए देखकर परिवारीजन दहाड़ मार कर रोने लगे। दोनों किशोरों की मौत किन कारणों से हुई है अभी ये कारण पता नहीं लगा है।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned