UPPCL कर्मचारियों की पाई-पाई मिले, सरकार कर रही सभी विकल्पों पर काम: श्रीकांत शर्मा

। डीएचएफएल मामले में अब तक पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

Amit Sharma

November, 1509:11 PM

आगरा। उत्तर प्रदेश पॉवर कार्पोरेशन लिमिटेड (UPPCL) कर्मचारियों के भविष्य निधि (PF) की रकम दीवान हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड (DHFL) में निवेश करने के मामले में आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) की टीम ने निवर्तमान सचिव पीके गुप्ता के बेटे अभिनव गुप्ता को भी लंबी पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया है। अब तक की जांच में सामने आ रहा है कि अभिनव गुप्ता के जरिए ही डीएचएफएल में भविष्य निधि की रकम निवेश की गई। डीएचएफएल मामले में अब तक पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

अभिनव की अहम भूमिका

बता दें कि पीके गुप्ता को आगरा से गिरफ्तार किया गया था। दक्षिणांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड में बतौर जीएम फाइनेंस जॉइन करने के दो दिन बाद ही गुप्ता को निलंबित कर दिया गया था। पीके गुप्ता की गिरफ्तारी के बाद से ही उनके बेटे अभिनव गुप्ता की तलाश की जा रही थी। वह आगरा के फ्रेंड्स पुरम स्थित फ्लैट पर नहीं मिला था। अभिनव नोएडा में रहकर प्रॉपर्टी डीलिंग का कार्य कर रहा था। अब उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। अभिनव की गिरफ्तारी के बाद दक्षिणांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के दफ्तर में भी दिनभर चर्चाएं रहीं।

क्या कहना है ऊर्जा मंत्री का

फोन पर बात के दौरान प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा है कि UPPCL कार्मिक दिन रात प्रदेश की जनता की सहूलियत के लिए परिश्रम कर रहे हैं, उनकी गाढ़ी कमाई की पाई-पाई मिले इसके लिये सरकार सभी विकल्पों पर काम कर रही है। सभी कार्मिकों और उनके परिवारों के साथ सरकार खड़ी है।

विपक्ष पर निशाना साधते हुए ऊर्जा मंत्री ने कहा कि 2014 में सपा सरकार द्वारा रचे गए षड्यंत्र के तहत गैरकानूनी तरीके से PF का पैसा DHFL में लगाया गया। अब सपा, बसपा और कांग्रेस को गरीब के घर को रोशन होते हुए देखने में कष्ट हो रहा है। अपने भ्रष्टाचार को छिपाने के बाद अब अनर्गल बयानबाजी कर दूसरी गलती कर रहे हैं।

ऊर्जा मंत्री ने कहा कि इस मामले में संलिप्त सभी निवर्तमान-वर्तमान लोगों पर सरकार सख्त कार्रवाई की जा रही। EOW जांच चल रही है। मेरे अनुरोध पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सीबीआई जांच को भी संस्तुति कर दी है।

Show More
अमित शर्मा
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned