जाटव समाज ने उत्तराखंड की राज्यपाल बेबीरानी मौर्य को सिर आँखों पर बैठाया, वीडियो में देखें क्या किया

जाटव समाज ने उत्तराखंड की राज्यपाल बेबीरानी मौर्य को सिर आँखों पर बैठाया, वीडियो में देखें क्या किया

Bhanu Pratap | Publish: Sep, 16 2018 08:21:37 PM (IST) | Updated: Sep, 17 2018 08:28:17 AM (IST) Agra, Uttar Pradesh, India

-सूरसदन में अभूतपूर्व स्वागत, बड़ी संख्या में आईँ महिलाएं

-51 किलो की माला तीन बार पहनाई, चांदी का मुकुट पहनाया

आगरा। उत्तराखंड की राज्यपाल बेबीरानी मौर्य आगरा की हैं। 26 अगस्त, 2018 को उन्होंने राज्यपाल पद की शपथ ली। इसके बाद आगरा आईं। आगरा के जाटव समाज ने सूरसदन में ऐसा स्वागत और सम्मान किया जो आज तक किसी नेता का नहीं हुआ होगा। नेता तो अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं से स्वागत कराते हैं, लेकिन यहां जाटव समाज था। उत्तराखंड की राज्यपाल बेबीरानी मौर्य को जाटव समाज ने सिर आँखों पर बैठा लिया।

यह भी पढ़ें

उत्तराखंड की राज्यपाल बेबीरानी मौर्य ने की ऐसी बड़ी घोषणा कि इस समाज की हो जाएगी बल्ले-बल्ले, देखें वीडियो

स्वागत की होड़ लगी

बेबीरानी मौर्य के स्वागत की ऐसी होड़ लगी कि हर कोई देखता रह गया। स्वागत का सिलसिला टूट ही नहीं रहा था। हालत यह हो गई कि आयोजकों को स्वागत कार्यक्रम बंद करना पड़ा। हर कई अपने हाथ में फूल माला, सम्मान पत्र, पुष्प गुच्छ लेकर आया था। बेबीरानी मौर्य के पैर छूने की होड़ मची हुई थी। स्वागत से गद्गद् बेबीरानी मौर्य ने अपने भाषण में इसका उल्लेख भी किया। उन्होंने कहा कि जाटव समाज ने मुझे सिर आँखों पर बैठाया है। एक दलित की बेटी राज्यपाल बनी है। यह संविधान की ताकत है। स्वागत समारोह में बेबीरानी मौर्य को 51 किलो की तीन बार मालाएं पहनाई गयी। चांदी का मुकुट पहनाया। स्मृति चिह्न भेंट किए गए।। स्वागत करने वालों की कतार लग गयी। बड़ी संख्या में महिलाओं ने स्वागत किया।

यह भी पढ़ें

शहर को ग्रीन बनाने के लिए मेयर नवीन के बिग प्लान की होने जा रही शुरुआत

 

women

ये रहे मंचासीन

मंच पर भंते ज्ञान रत्न,महंत द्वारिका प्रसाद साहिब कबीर पंथी महासभा राजस्थान, देवकी नंदन सोन, बंगाली बाबू सोनी, विधायक डॉ. जीएस धर्मेश, हरिकृष्ण पिप्पल, पूर्व मंत्री डॉ रामबाबू हरित, चौधरी राजन सिंह, कार्यक्रम अध्यक्ष कपूर आनंद, कार्यक्रम संयोजक अशोक पिप्पल, कार्यक्रम कोषाध्यक्ष गजेंद्र पिप्पल, ओम प्रकाश सागर, राजेन्द्र पिप्पल, जयराम केम, आदि विराजमान थे। स्वागत समारोह में आने पूर्व राज्यपाल ने बिजलीघर स्थित डॉ भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया।

यह भी पढ़ें

खतरनाक मलेरिया के मिले 1500 मरीज, 150 से ज्यादा की मौत, स्वास्थ्य महकमे की नाकामी आई सामने

 

 

Baby rani maurya

राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को धन्यवाद

उत्तराखंड की महामहिम राज्यपाल बेबीरानी मौर्य ने कहा कि सबसे पहले मैं राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री मोदी का आभार व्यक्त करती हूं। भाजपा ने अभी तक के इतिहास में पहली बार किसी दलित बेटी को इतने बड़े संवैधानिक पद पर पहुंचाकर सम्मान दिया है, जो आजतक किसी पार्टी ने नहीं दिया। हम चाहे कितने ही बड़े पद पर क्यों न पहुंच जाएं, हमें मानव सेवा को नहीं भूलना चाहिए। हमें बस अपना कर्तव्य करते रहना चाहिए। ईश्वर उसका फल हमें अवश्य देता है।

यह भी पढ़ें

महिलायें इन समस्याओं को छुपायें नहीं, बल्कि डॉक्टर को खुलकर बतायें, नहीं तो हो सकती है मौत...

vijay shivhare

इन संस्थाओं ने किया स्वागत

स्वागत समारोह में आगरा की विभिन्न जाटव समितियों ने स्वागत किया। इनमें जाटव उत्थान समिति, परमहंस कल्याण सेवा समिति, नव चेतना जागृति संस्था, जाटव समाज सेवा समिति, भीम व्यापार मंडल आदि थीं। स्वागत समारोह में रमेश चंद मौर्य, बनारसी दास पिप्पल, मुकेश पिप्पल, सोमदत्त, राजू बौद्ध, रमाकांत भारती, लखन कुमार, डॉ सुधारानी, लता, सीटू पिप्पल, सतीश पिप्पल, राजकुमार पथिक, अशफाक सैफ़ी, शिवम सागर, राहुल सागर,श्याम बाबू आदि थे। कार्यक्रम संयोजक अशोक पिप्पल ने कहा कि भाजपा ने दलित समाज की बेटी को इतना बड़ा सम्मान देकर जाटव समाज का दिल जीत लिया है। कार्यक्रम अध्यक्ष कपूर आनंद एवम कोषाध्यक्ष गजेंद्र पिप्पल ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

यह भी पढ़ें

SC ST आयोग के अध्यक्ष का हो रहा था स्वागत, तभी रोती हुई पहुंची किशोरी ने बताई सवर्ण समाज के युवक की ये हरकत, देखें वीडियो

baby rani maurya
Ad Block is Banned