एयरपोर्ट से एक करोड़ की 10 किलो चरस पकड़ी

टे्रन और बसों के जरिए जम्मू एवं कश्मीर से चरस को गुजरात व महाराष्ट्र तक पहुंचाए जाने की मॉडस ओपरेंडी को भांपने के बाद नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीब

By: मुकेश शर्मा

Published: 14 Nov 2017, 05:18 AM IST

अहमदाबाद।टे्रन और बसों के जरिए जम्मू एवं कश्मीर से चरस को गुजरात व महाराष्ट्र तक पहुंचाए जाने की मॉडस ओपरेंडी को भांपने के बाद नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) की सतर्कता व सख्ती को देखते हुए विमान के जरिए चरस की हेराफेरी किए जाने का भी एनसीबी ने पर्दाफाश किया है। विमान के जरिए दस किलोग्राम चरस लेकर अहमदाबाद पहुंचे चरस तस्कर के साथ इसे लेने आने वाले युवक को भी दो लाख की नकदी के साथ एनसीबी ने धर-दबोचा है। जब्त की गई चरस की अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत एक करोड़ रुपए से अधिक की बताई जा रही है।

एनसीबी के क्षेत्रीय निदेशक हरीओम गांधी ने बताया कि जम्मू एवं कश्मीर के बारामूला जिले के शेरी निवासी फारुक अहमद रेशी (28) एवं मुंबई नागपाडा हाल अहमदाबाद के शाहआलम क्षेत्र निवासी शकील अहमद कुरेशी (४८) को अहमदाबाद एयरपोर्ट से शनिवार देर रात १० किलोग्राम चरस के साथ पकड़ा है। जिसकी अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत एक करोड़ रुपए से भी ज्यादा है।

एनसीबी को सूचना मिली थी कि इंडिगो एयरलाइंस के विमान से जम्मू कश्मीर का रहने वाला एक युवक श्रीनगर से निकला है, जो मुंबई से होते हुए अहमदाबाद बड़े पैमाने पर चरस लेकर पहुंचने वाला है। वह सेव की पेटी में चरस को लेकर पहुंचेगा। सूचना के आधार पर नजर रखी तो अहमदाबाद एयरपोर्ट पर शनिवार (11 नवंबर) रात को जम्मू एवं कश्मीर का रहने वाला फारुक रेशी सेब के बॉक्स के साथ बाहर निकला।

जैसे ही फारुक एयरपोर्ट पर अहमदाबाद शाहआलम निवासी शकील अहमद कुरेशी (४८) से मिला और उसे पेटी सौंपी उसी दौरान उसे पकड़ लिया। शकील के पास से दो लाख की नकदी भी बरामद हुई है, जो वह फारुक को देने के लिए लाया था। शकील गुजरात ही नहीं बल्कि महाराष्ट्र का भी बड़ा चरस और एमडी का वितरक है। गांधी ने कहा कि विमान के जरिए चरस की इतनी बड़े पैमाने में हेराफेरी करके अहमदाबाद चरस पहुंचाए जाने ने के बाद जब्ती की यह पहली बड़ी कार्रवाई है। उन्होंने बताया कि पकड़ा गया शकील कुरेशी अहमदाबाद का बड़ा चरस वितरक है। इसका भाई भी मुंबई एनसीबी की ओर से चरस के साथ पकड़ा जा चुका है। यह नई मोडस ऑपरेन्डी है। इसकी हमें काफी समय से शंका थी और आखिरकर हम इसे भी पकडऩे में सफल हुए हैं।

एनसीबी ने इससे पहले आठ नवंबर को जुहापुरा से आबिद मियां और तीन दरवाजा निवासी इन्तेखाब आलम वोरा को सवा पांच किलोग्राम चरस के साथ पकड़ा था। आबिद मियां भी अहमदाबाद के बड़े चरस विक्रेताओं में से एक है।

पैरोल पर छूटने के बाद से वांछित को भी पकड़ा

एनसीबी ने शाहपुर के रहने वाले शहनवाज पठान (३४) को सरखेज गांधीनगर हाईवे से रविवार (12 नवंबर) को पकड़ा है। इसे अहमदाबाद क्राइम ब्रांच ने अक्टूबर-२०१४ में 19 किलोग्राम चरस के साथ पकड़ा था। यह भी गुजरात में चरस का बड़ा तस्कर है। यह पैरोल पर छूटने के बाद से फरार था। यह अजमेर से वापस अहमदाबाद आया था तभी इसे सूचना के आधार पर धर-दबोचा।

 

Show More
मुकेश शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned