11 हजार खंभे, 600 ट्रांसफार्मर बहाल

तौकते चक्रवात के बाद गिर सोमनाथ जिले में बिजली आपूर्ति पूर्ववत

By: Rajesh Bhatnagar

Published: 09 Jun 2021, 11:51 PM IST

प्रभास पाटण. गिर-सोमनाथ जिले में तौकते चक्रवात के बाद बिजली विभाग की ओर से कार्रवाई करते हुए 11 हजार खंभे और 600 ट्रांसफार्मर लगाकर बिजली आपूर्ति पूर्ववत कर दी गई है।
तौकते चक्रवात से प्रभावित कोडीनार, गिर गढड़़ा और ऊना तहसीलों के गांवों में ज्योतिग्राम फीडर चालूकर प्रत्येक गांवों में बिजली आपूर्ति पूर्ववत की गई है। पश्चिम गुजरात विज कंपनी लिमिटेड (पीजीवीसीएल) के कार्यपालक अभियंता यशपाल आर. जाडेजा ने यह जानकारी दी। जाडेजा के अनुसार जिले की तीनों प्रभावित तहसीलों के प्रभावित गांवों में 20 सब स्टेशनों की ओर से बिजली आपूर्ति पूर्ववत की गई।
बिजली के 11 हजार खंभे और 600 ट्रांसफार्मर बहाल किए गए। ठेेकेदारों की 115 टीमों, पीजीवीसीएल की 39 टीमों के 1200 से अधिक अधिकारी-कर्मचारी दिन-रात युद्धस्तर पर जुटे। प्रदेश के ऊर्जा मंत्री सौरभ पटेल ने भी ऊना में 220 केवी के स्टेशन का पिछले दिनों दौराकर जेटको व पीजीवीसीएल के अधिकारियों की बैठक में जिले के प्रभावित गांवों में युद्धस्तर पर कामकर बिजली आपूर्ति पूर्ववत करने के निर्देश दिए थे।
चक्रवात के कारण बिजली के खंभों, बिजली की लाइनों, ट्रांसफार्मरों, सब स्टेशनों को बहाल करने और युद्धस्तर पर काम करने के लिए समय पर सामान पहुंचाने में ऊना के कार्यपालक अभियंता यशपाल आर. जाडेजा के निर्देशन में कनिष्ठ अभियंता एम.एन. जादव व टीम ने सहयोग किया।
टीम ने ऊना व गिर गढड़़ा तहसीलों में बिजली आपूर्ति पूर्ववत करने के लिए युद्धस्तर पर दिन-रात कार्यकरते हुए समय पर सामान पहुंचाने का सफल कार्य किया। अमरेली, कच्छ-भुज, राजकोट, पोरबंदर, जामनगर जिलों से सामान मंगवाया गया। इसमें 11 किलोवॉट से लेकर एल.टी. लाइन को जोडऩे वाला सामान शामिल था। इस कार्य में पीजीवीसीएल कार्यालय के 7 कर्मचारी और 40 श्रमिक जुटे।

Rajesh Bhatnagar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned