सिविल मेडिसिटी के 1200 बेड में बच्चों के लिए 300 बेड की व्यवस्था

कोरोना की संभावित तीसरी लहर से मुकाबले को तैयार...

 

By: Omprakash Sharma

Published: 15 Jun 2021, 09:49 PM IST

अहमदाबाद. कोरोना की संभावित तीसरी लहर से मुकाबला करने के लिए एशिया का सबसे बड़ा अहमदाबाद का सिविल अस्पताल तैयार है। सिविल मेडिसिटी के 1200 बेड हॉस्पिटल में बच्चों के लिए भी खास व्यवस्था की गई है। बच्चों के उपचार के लिए विशेष प्रशिक्षण भी शुरू कर दिया गया है। पीडियाट्रिक विभाग की ओर से प्रतिदिन अन्य कर्मचारियों को प्रशिक्षित किया जा रहा है।
सिविल अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. जे.वी. मोदी ने बताया कि कोरोना की संभावित तीसरी लहर में बच्चों के संक्रमित होने की आशंका को ध्यान में रखकर भी व्यवस्था की जा रही है। 1200 बेड हॉस्पिटल में बच्चों के लिए अलग से वार्ड बनाकर 300 बेड तैयार कर लिए गए हैं। इसके लिए खास संसाधन भी सरकार की ओर से मुहैया कराए जा रहे हैं। गुजरात मेडिकल सर्विस कॉर्पोरेशन लिमिटेड (जीएमएससीएल) की ओर से वेंटिलेटर जैसे साधन आगामी दिनों में उपलब्ध कराए जाएंगे। इसके अलावा पीडियाट्रिक इन्टेंसिव केयर यूनिट (पीआईसीयू) तथा नियोनैटल इन्टेंसिव केयर यूनिट (एनआईसीयू) से संबंधित 45-45 बेड तैयार भी कर दिए गए हैं। ऑक्सीजन की भी अतिरिक्त व्यवस्था की जा रही है।

नर्स व अन्य स्टाफ को किया जा रहा है प्रशिक्षित
कोरोना की तीसरी लहर की संभावना के चलते सिविल अस्पताल में पीडियाट्रिक विभाग की ओर से अस्पताल के अन्य कर्मचारियों को उपचार के लिए प्रशिक्षित किया जा रहा है। प्रतिदिन 50 को यह ट्रेनिंग दी जा रही है। इसके अलावा बच्चों के वार्ड की दीवारों में भी अनूठे अंदाज में पेंटिंग से सजाया जा रहा है।
डॉ. जे.वी. मोदी, चिकित्सा अधीक्षक सिविल अस्पताल अहमदाबाद

Omprakash Sharma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned