script40 percent women forced to cook food with wood, sticks in the country | Cooking देश के 40 फीसदी हिस्से में लकड़ी, कंडों से खाना पकाने को मजबूर महिलाएं | Patrika News

Cooking देश के 40 फीसदी हिस्से में लकड़ी, कंडों से खाना पकाने को मजबूर महिलाएं

Cooking आधे से ज्यादा हिस्से में बिजली, गैस, बायोगैस का उपयोग

अहमदाबाद

Published: June 01, 2022 10:54:08 pm

राजेश भटनागर
Cooking अहमदाबाद. देश के 40 फीसदी हिस्से में आज भी महिलाएं लकड़ी, कंडों, केरोसिन, कोयले के जरिए धुएं के बीच खाना पकाने को मजबूर हैं। हालांकि 59 फीसदी क्षेत्र में खाना पकाने के लिए बिजली, प्राकृतिक गैस, बायोगैस का इस्तेमाल किया जा रहा है।
नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे (एनएफएचएस)-5 की रिपोर्ट के अनुसार देश में बिजली, एलपीजी, प्राकृतिक गैस, बायो गैस जैसे स्वच्छ ईंधन का उपयोग सबसे ज्यादा 89.7 फीसदी उपयोग शहरी क्षेत्रों में हो रहा है। 43.2 फीसदी उपयोग ग्रामीण क्षेत्र के लोग कर रहे हैं। इनमें सर्वाधिक 57.7 फीसदी हिस्से में एलपीजी या नेचुरल गैस का उपयोग हो रहा है। 0.6 फीसदी हिस्से में बिजली और 0.3 फीसदी हिस्से में बायोगैस से खाना पकाया जा रहा है।
सर्वे के मुताबिक 56.1 फीसदी ग्रामीण क्षेत्रों में ठोस ईंधन का उपयोग हो रहा है। जबकि शहरी क्षेत्रों में इसकी हिस्सेदारी 9.5 फीसदी है। इनमें सर्वाधिक 43.7 फीसदी हिस्सों में खाना पकाने के लिए ईंधन के रूप में लकड़ी का उपयोग किया जा रहा है। कुल 4 फीसदी हिस्से में गोबर के कंडों का उपयोग किया जा रहा है। 0.4 फीसदी केरोसिन, 0.8 फीसदी कोयले या लिग्नाइट और चारकोल, 1.4 फीसदी चारे, 2 फीसदी कृषि उत्पाद के अनुपयोगी हिस्से शामिल हैं।

Cooking ठोस ईंधन के उपयोग में झारखंड पहला
(फीसदी में)
झारखंड 67.8
छत्तीसगढ़ 66.4
ओडिशा 64.9
मेघालय 63.4
बिहार 62.0
Cooking देश के 40 फीसदी हिस्से में लकड़ी, कंडों से खाना पकाने को मजबूर महिलाएं
Cooking देश के 40 फीसदी हिस्से में लकड़ी, कंडों से खाना पकाने को मजबूर महिलाएं
Cooking दिल्ली में स्वच्छ ईंधन का सर्वाधिक उपयोग

दिल्ली 98.9
गोवा 96.5
चंडीगढ़ 95.8
पुद्दुचेरी 92.3
तेलंगाना 91.8

Cooking गुजरात के 67 फीसदी हिस्से में स्वच्छ ईंधन का उपयोग

गुजरात में प्रथम चरण में 23 जून 2019 से 30 नवंबर 2019 तक सर्वे किया गया। उस समय 29368 मकानों में 33343 महिलाओं व 5351 पुरुषों से सूचनाएं एकत्र की गई। सर्वे की रिपोर्ट के अनुसार गुजरात के शहरी क्षेत्रों में 94.3 व ग्रामीण क्षेत्रों में 46.1 समेत कुल 66.9 फीसदी हिस्से में स्वच्छ ईंधन और 32.2 फीसदी हिस्से में ठोस ईंधन का उपयोग किया जा रहा था।
Cooking महिलाओं के लिए धुआं खतरनाक

ठोस ईंधन के उपयोग से होने वाला धुआं महिलाओं के लिए खतरनाक है। इससे फेफड़ों संबंधी रोग होने की संभावना अधिक रहती है। इसलिए वैकल्पिक ईंधन का उपयोग करने पर विचार करना चाहिए।
-डॉ. गोपाल रावल, पल्मोनोलॉजिस्ट
Cooking लंबे समय तक धुएं से रक्त कैंसर का बढ़ता है खतरा

खाना पकाने के लिए ठोस ईंधन का उपयोग करने से होने वाला धुआं शरीर में जाने पर ब्रोंकाइटिस, अस्थमा, टीबी होने की संभावना बढ़ती है। लंबे समय तक धुआं शरीर में जाने पर रक्त कैंसर का खतरा भी बढ़ता है।
-प्रवीण गर्ग, वरिष्ठ फिजिशियन

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Amravati Murder Case: उमेश कोल्हे की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आई सामने- गर्दन पर चाकू का गहरा घाव, दिमाग व आखं की नस और खाने की नली डैमेजहैदराबाद के राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक में BJP नेताओं ने पकड़ा 'जासूस', दस्तावेज की ले रहा था फोटोपाकिस्तानी जासूस को 5 साल का कारावास:ATS की स्पेशल कोर्ट ने सुनाई सजा, सेना की जासूसी करते हुए पहले हुआ था गिरफ्तारIND vs ENG, 5th Test Match Day 3 Live Updates: भारतीय गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन की बदौलत इंग्लैंड 284 रनों पर ढेरतेलंगाना, केरल, बंगाल, तमिलनाडु में बनाएंगे सरकार, BJP की बड़ी बैठक में नेताओं ने लिया संकल्पबिहार ने सड़क निर्माण में बनाया रिकॉर्ड, 98 घंटे में बना दी 38 किलोमीटर रोडMonsoon Update : राजस्थान में अति भारी बारिश की चेतावनी, 5 से बारिश का नया दौरउदयपुर हत्याकांड पर कैलाश विजयवर्गीय का कांग्रेस पर तंज, बोले- वो इसे सामान्य कत्ल मान रहे, जबकि...
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.