गुजरात में कोरोना के 671 नए मरीज, चार की मौत

अहमदाबाद में सूरत से कम मरीज...
कुल मामले 251936

By: Omprakash Sharma

Published: 10 Jan 2021, 08:55 PM IST

अहमदाबाद. राज्य में रविवार को पूरे हुए 24 घंटों में कोरोना के नए 671 मरीज सामने आए हैं। इसके अलावा राज्य में चार की मौत हो गई। कोरोना काल से अब तक प्रदेश में कोरोना के कुल मामलों की संख्या 251936 हो गई है। इस वायरस के चलते 4344 की मौत भी हो चुकी है। दीपावली के बाद पहली बार है जब कोरोना के मरीजों की संख्या अहमदाबाद की तुलना में सूरत में अधिक हैं।
गुजरात राज्य में रविवार को सामने आए 671 मरीजों में से सबसे अधिक 129 मरीज सूरत जिले के हैं। दीपावली के बाद पहली बार अहमदाबाद से अधिक मरीज सूरत में सामने आए हैं। इसके अलावा अहमदाबाद जिले में मरीजों की संख्या 126 दर्ज की गई है। इनमें अहमदाबाद शहर के 123 और ग्रामीण क्षेत्रों के तीन मरीज हैं। अहमदाबाद समेत राज्यभर में पिछले कुछ दिनों से लगातार कोरोना के मरीजों की संख्या कम हुई है। वडोदरा जिले में रविवार को नए मरीजों की संख्या 117 दर्ज हुई है। राजकोट मेें 82, गांधीनगर में 15 एवं जामनगर जिले में 14 नए मरीज सामने आए हैं। अब तक राज्य में कुल मामले 251936 हो गए हैं। प्रदेश में जिन चार मरीजों की मौत हुई है उनमें सबसे अधिक दो अहमदाबाद शहर के हैं। इसके अलावा वडोदरा और मोरबी जिले में एक-एक मरीज की मौत हो गई। इस संक्रमण के चलते अब तक राज्य में 4344 लोग जान गंवा चुके हैं।


रिकवरी रेट 95.17 फीसदी
प्रदेश में कोरोना की रिकवरी रेट भी लगातार बढ़ रही है। रविवार को पूरे हुए 24 घंटे में कोरोना के 806 मरीजों को डिस्चार्ज करने के साथ ही यह दर 95.17 फीसदी हो गई है। अब तक 239771 मरीजों ने इस संक्रमण को हरा दिया है। फिलहाल राज्य में कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 7829 रह गई है। इनमें से 61 वेंटिलेटर पर हैं जबकि 7768 की हालत स्थिर बताई गई है।

90 फीसदी खाली हैं बेड
राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार कोरोना के उपचार के लिए राज्य में 55000 बेड उपलब्ध हैं। इनमें से 90 फीसदी से भी अधिक बेड खाली हैं। दस फीसदी पर ही मरीज उपचाराधीन हैं। विभाग का कहना है कि कोरोना की सुधर रही स्थिति के परिणामस्वरूप बेड खाली हैं।

Omprakash Sharma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned